कानपुर हिंसा का प्रमुख आरोपी गिरफ्तार

कानपुर : पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा की कथित आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर पिछले महीने कानपुर में हुई हिंसा के एक प्रमुख आरोपी को मंगलवार को लखनऊ में गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि तीन जून को कानपुर में हुई हिंसा के प्रमुख आरोपियों में शामिल हाजी वसी को लखनऊ स्थित चौधरी चरण सिंह हवाईअड्डे के पास से पकड़ा गया। वसी के सबसे बड़े बेटे अब्दुल रहमान को इस मामले में पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। कानपुर हिंसा मामले में अब तक 61 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं। 

संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून-व्यवस्था) आनंद प्रकाश तिवारी के मुताबिक, हाजी वसी की कई दिनों से तलाश की जा रही थी और उसकी लोकेशन लखनऊ के आसपास मिली थी, जिस पर कार्रवाई करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि वसी को कानपुर लाया गया है और उससे गहन पूछताछ की जा रही है, ताकि हिंसा के पीछे की सच्चाई का पता लग सके। तिवारी के अनुसार, हाजी वसी को संबंधित अदालत में पेश किया जाएगा और न्यायालय के निर्देश के मुताबिक आगे की कार्यवाही होगी। उन्होंने बताया कि हाजी वसी का आपराधिक इतिहास है और उसके खिलाफ चार मुकदमे पहले से ही चल रहे हैं।

इससे पहले, विशेष अनुसंधान दल ने मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत से हाजी वसी और 18 अन्य अभियुक्तों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट हासिल किया था। हिंसा के बाद कानपुर जिला प्रशासन ने हाजी वसी के एक मकान को ध्वस्त कर दि था। गौरतलब है कि तीन जून को पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ नुपुर शर्मा की कथित अपमानजनक टिप्पणी के खिलाफ मौलाना मोहम्मद अली जौहर फैंस एसोसिएशन नामक स्थानीय संगठन ने कानपुर में बंद का आह्वान किया था। इसी दौरान यतीमखाना, नयी सड़क और परेड इलाके में हुए पथराव में कई लोग घायल हो गए थे।