जिलाधिकारी ने विकास भवन में की विकास कार्यों की मासिक समीक्षा

सहारनपुर। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह की अध्यक्षता में विकास कार्यों का मूल्यांकन एवं अनुश्रवण के संबंध में विकासभवन सभागार में पूर्वान्ह 11ः00 बजे मासिक समीक्षा बैठक आहूत की गयी। जनपद में चल रही सभी विकास एवं जनकल्याणकारी योजनाओं की विभागवार समीक्षा की गयी।

 इसके अन्तर्गत प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, निराश्रित गोवंश को संरक्षित करना, मुख्यमंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश सहभागिता योजना, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन निर्माण की स्थिति, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, पेंशन योजनाएं, गन्ना मूल्य भुगतान, शिकायतों का निस्तारण आदि योजनाओं की समीक्षा की गयी। 

उन्होने निर्देश दिए कि विभागों द्वारा किये गये कार्यों को समय पर पोर्टल पर अपलोड किया जाए जिससे जनपद की प्रदेश स्तर पर रैंकिंग को उच्च श्रेणी प्रदान हो सके। अखिलेश सिंह ने निर्देश दिए कि रैंकिंग को खराब करने वाले सिंचाई, पशुपालन, पंचायती राज, कृषि एवं समाज कल्याण विभाग द्वारा डाटा फीडिंग में लापरवाही की वजह से जनपद की रैंकिंग प्रभावित होने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि यदि संबंधित विभाग प्रगति में सुधार नहीं लाए तो उनके विरूद्ध कडी कार्यवाही की जायेगी। 

जिन विभागों के पास विद्युत बिल बकाया है वे शीघ्रता से बिल भुगतान करें। उन्होने कडे निर्देश दिए कि कांवड मार्गों को गडढामुक्त तथा साफ-सुथरा बनाया जाए। इसी के साथ यह सुनिश्चित किया जाए कि कांवडमार्ग में पडने वाली नहरों पर बैरिकैटिंग शत-प्रतिशत हो जाए। मुख्यमंत्री निराश्रित/बेसहारा गोवंश को संरक्षित करने हेतु अभियान के रूप में कार्य किया जाए। उन्होने कहा कि स्वरोजगार से संबंधित पत्रावलियों को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित किया जाए। 

उन्होने कहा कि कांवड के दृष्टिगत कोई भी अधिकारी बिना अनुमति के मुख्यालय नहीं छोडेंगे। सभी विभाग अपने विभागीय कार्यों की प्रगति के संबंध में पीपीटी तैयार कर 03 दिन के अन्दर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि 50 लाख से ऊपर की सिंचाई विभाग, राजकीय निर्माण निगम, सेतु निगम, आवास विकास परिषद निर्माण कार्य से जुडी परियोजनाओं को यथाशीघ्र पूर्ण किया जाना सुनिश्चित करें। 

यदि किसी कारण से परियोजनाओं को पूर्ण करने में बाधा आ रही है तो संबंधित विभाग जिलाधिकारी महोदय के माध्यम से शासन को पत्र भिजवाए। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री विजय कुमार, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी श्री अमित कुमार तथा अन्य संबंधित सभी विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे।