ड्रोन कैमरा उड़ते देख अवैध कब्जा धारकों की धड़कनें हुई तेज

खड़ौरा गांव में गड़ही सहित सरकारी सुरक्षित भूमि पर है गांव के दबंगों का कब्जा।

दुल्लहपुर गाजीपुर।  जखनियां विकास खंड के मुस्तफाबाद उर्फ बड़ागांव ग्रामपंचायत के खड़ौरा राजस्व ग्राम में बुधवार को ड्रोन कैमरा से सर्वे किया गया।कैमरा से सर्वे की भनक लगते ही  लोगों की जगह जगह भीड़ इकट्ठा हो गई। आसमान में उड़ते कैमरा को देखने के लिए गांव के लोग आसमान को निहारते रहे। और गांव की जमीनी हकीकत कैमरे की नजर में कैद होती रही।जमीनी हकीकत से गांव के अवैध कब्जा धारकों में जहां बैचैनी बढ़ती नजर आई। वहीं बहुत लोग खुश भी दिखाई दिए। मिली जानकारी के अनुसार गांव में सरकारी सुरक्षित जमीनों जैसे खलिहान,सऊर स्थल, विद्यालय की जमीन गांव के मुख्य जलनिकासी स्थल,घुर गड्ढे ,पशुचर, रेलवे की जमीन सहित गांव की बंदोबस्ती दो प्रमुख पोखरियों नंबर (226तथा227) श्मशान आदि की भूमि पर गांव के मनबढों का अनाधिकृत कब्जा होने के चलते आए दिन तूं तूं मैं मैं होती रहती है। बरसात के दिनों में दो पक्षों के आमने सामने होने से स्थिति अनहोनी को बल देती है। सर्वे के बावत पूछे जाने पर टीम लीडर जितेंद्र सिंह ने बताया कि केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना के तहत ड्रोन कैमरा से सर्वे  किया जाना जनता के हित में सर्वमान्य समाधान है। ड्रोन कैमरे द्वारा स्वामित्व योजना के अन्तर्गत गांवों में आबादी की भूमि का घरौनी तैयार करना और सरकारी जमीनों पर से लोगों को बेदखल करना सरकारी सर्वे का मुख्य उद्देश्य है।  ड्रोन कैमरा सर्वे टीम में मुख्य रूप से लेखपाल जितेंद्र सिंह और आशुतोष पाण्डेय शामिल थे।