राहुल गांधी का बयान तोड़-मरोड़ कर दिखाने के मामले में न्यूज चैनल का एंकर हिरासत में

नोएडा : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का बयान तोड़-मरोड़ कर दिखाने के मामले में पुलिस ने एक समाचार चैनल के एंकर को हिरासत में लिया है। अपर पुलिस उपायुक्त (जोन प्रथम) रणविजय सिंह ने मंगलवार को बताया कि सेक्टर- 16ए में स्थित जी-मीडिया के एक अधिकारी बी आर वेंकटरमन ने थाना सेक्टर 20 में, संस्थान के एक वरिष्ठ प्रोड्यूसर और एक प्रशिक्षु प्रोड्यूसर के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई है। 

शिकायत के अनुसार, दोनों प्रोड्यूसर ने, केरल के वायनाड में राहुल गांधी के कार्यालय में हुई तोड़फोड़ के बारे में दिए गए उनके (राहुल के) बयान को तोड़-मरोड़ कर चैनल पर प्रसारित कर दिया। सिंह ने बताया कि इस मामले में धारा 505 (2) के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि उक्त समाचार को पढ़ने वाले एंकर को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। वहीं, एंकर को गिरफ्तार करने गाजियाबाद पहुंची छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले की पुलिस ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने गिरफ्तारी की प्रक्रिया को बाधित किया और एंकर को अपने साथ ले गई। 

छत्तीसगढ़ पुलिस ने कहा है कि अदालत से आरोपी के विरुद्ध जारी वारंट लेकर रायपुर पुलिस की टीम आज सुबह आरोपी के गाजियाबाद स्थित निवास पहुंची थी। आरोपी को हिरासत में लेकर गिरफ्तारी की प्रक्रिया चल रही थी लेकिन स्थानीय पुलिस, छत्तीसगढ़ पुलिस के वारंट दिखाने के बावजूद आरोपी को अपने साथ ले गई और गिरफ्तारी की प्रक्रिया को बाधित किया।

 रायपुर जिले के पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि कांग्रेस विधायक देवेंद्र यादव की शिकायत पर रविवार को जी न्यूज के एंकर रंजन के खिलाफ विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने और लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में मामला दर्ज किया गया था। भाजपा नेताओं समेत कई लोगों ने गलत संदर्भ में दिखाए गए इस वीडियो के प्रसारित होने के बाद राजस्थान के उदयपुर में दर्जी कन्हैया लाल की नृशंस हत्या की घटना के मद्देनजर गांधी और कांग्रेस पर निशाना साधा था।