मिर्जापुर : स्वामी अड़गड़ानंद के परमहंस आश्रम में चली गोली, एक साधु की मौत

मिर्जापुर : मिर्जापुर जिले के सक्तेशगढ़ स्थित यथार्थ गीता के प्रणेता स्वामी अड़गड़ानंद के परमहंस आश्रम में गुरुवार सुबह जब लोग योगासन में लीन थे तभी गोली चलने की आवाज आई। लोगों ने देखा तो गोली लगने से एक साधु की मौत हो गई। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस के मुताबिक साधु ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी की है। मौके पर फील्ड यूनिट, डॉग स्क्वायड को बुलाया गया। वहीं घटना को लेकर तमाम चर्चाएं हैं। 

स्वामी अड़गड़ानंद महाराज के लाखों भक्त  देश और विदेश में फैले हैं। उनका चुनार थाना क्षेत्र के सक्तेशगढ़ में परमहंस आश्रम है। गुरुवार सुबह जब आश्रम के अनुयायी और भक्त आसन लगाकर भक्ति में लीन थे तभी आश्रम में गोली चलने की आवाज सुनाई दी।

जिस तरफ से गोली चलने की आवाज आई लोग उधर गए तो देखा कि साधु जीवन बाबा उर्फ जीत (45) पुत्र सियाराम निवासी सीहोर जनपद शिवपुर (मध्य प्रदेश) को गोली लगी थी। सूचना पर चुनार व अन्य थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। सीओ चुनार रामानंद राय फील्ड यूनिट व डॉग स्क्वाड के साथ मौके पर पहुंचे। सीओ चुनार रामानंद राय ने बताया कि आश्रम में गोली चलने की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे तो वहां पर जीवन बाबा मृत हाल में मिले। उनके सिर में गोली लगी थी। मौके पर दो तमंचा भी मिला। सेवादारों से पूछने पर पता चला कि जीवन बाबा आश्रम में आते-जाते रहते हैं।

पुलिस के मुताबिक जीवन बाबा ने आत्महत्या की है। लेकिन चर्चा है कि आश्रम में दो गोली चली है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने बताया कि आश्रम में एक साधु ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी की है। मामले की जांच की जा रही है। अगर कोई और तथ्य सामने आएगा तो उस पर कार्रवाई की जाएगी।