श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड पर भी छाया आर्थिक संकट, बल्लेबाज से कहा

श्रीलंका में इस समय आर्थिक और राजनीतिक संकट है, जिसके कारण देश में खाने-पीने से लेकर आने-जाने की व्यवस्था तक चरमरा गई है। इस बीच श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड की हालत भी खराब है। भले ही ऑस्ट्रेलिया के बाद पाकिस्तान की टीम ने श्रीलंका का दौरा किया हो, लेकिन श्रीलंका क्रिकेट से एशिया कप 2022 की मेजबानी छिन गई है। इसके पीछे का कारण आर्थिक हालात हैं। 

इससे भी ज्यादा एक हैरान करने वाली बात श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड से जुड़ी ये सामने आई है कि एक बल्लेबाज को अपने कंधे की सर्जरी करानी थी, लेकिन श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने कहा है कि खिलाड़ी को भी पैसे खर्च करने होंगे। बीमा कंपनी से जितने पैसे मिलेंगे, उससे अलावा जो भी खर्चा होगा वो स्वयं खिलाड़ी को वहन करना होगा। श्रीलंकाई मीडिया में इस बात का दावा किया जा रहा है। 

एक रिपोर्ट के मुताबिक, कंधे की सर्जरी के लिए कुसल परेरा की ब्रिटेन की प्रस्तावित यात्रा में और देरी हो गई है, क्योंकि श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड यानी एसएलसी ने बल्लेबाज के अनुरोध को पूरा करने में असमर्थ होने की स्थिति में इसे ठुकरा दिया था। एसएलसी ने खिलाड़ी को लागत का एक बड़ा हिस्सा वहन करने के लिए कहा है, जो बीमाकर्ता द्वारा कवर नहीं किया जाता है।