डॉक्टर भगवान का रूप है- छाया अग्रवाल अध्यक्ष (आदर्श शाखा)

आजमगढ़। जब आंसू होते हैं, तो आप कंधा होते हैं, जब दर्द होता है, तो आप दवा होते हैं, जब हादसा होता है, तो आप उम्मीद होते हैं... दिन रात मरीजों की सेवा करने वाले डॉक्टर्स को डॉक्टर्स डे की शुभकामनाएं. हर साल एक जुलाई यानी आज के दिन को चिकित्सक दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य चिकित्सा क्षेत्र में डॉक्टरों के अमूल्य योगदान के प्रति सम्मान जाहिर करना है। 

वैसे तो पहले से ही डॉक्टर्स को जीवनदाता की संज्ञा दी गई है।इसी क्रम में आज भारत विकास परिषद की आदर्श शाखा ने शहर के मातबरगंज स्थित महिला चिकित्सालय पहुंच डाक्टरों को सम्मानित किया। जिसमे अस्पताल की सीएमएस मंजुला सिंह, पीएमएस विनय सिंह यादव, डा यू बी चौहान, डा वीके यादव, डा रश्मि सिन्हा, डा अनूप जयसवाल, डा समीर अग्रवाल आदि डाक्टरों को शाखा की मौजूद सदस्यों द्वारा मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया।

आदर्श शाखा की अध्यक्ष छाया अग्रवाल ने डाक्टरों की भूरी भूरी प्रशंशा की और कहा की डॉक्टर भगवान तो नही लेकिन भगवान का ही रूप माना जाता है, यह हमें जन्म तो नही देते है लेकिन जान जरूर बचाने का कार्य करते है।जिस तरह से कोरोना महामारी में डॉक्टरों का मरीजों के प्रति योगदान रहा और दिन रात मरीजों की सेवा में डटकर खड़े रहे डॉक्टर्स ने इसे बखूबी साबित भी किया।जिसके बाद शाखा के सदस्यो द्वारा अस्पताल के मरीजों में खाद्य पदार्थ का भी वितरण भी किया गया।