पाँच अंतर्जनपदीय शातिर लुटेरे पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार, लूट की घटनाओं का सफल अनावरण 39,500/- नगदी, लूटी गई मोटरसाइकिल, अवैध शस्त्र, कारतूस व पीड़ित के कागजात बरामद

ब्यूरो , सीतापुर : जनपद सीतापुर में पुलिस अधीक्षक घुले सुशील चंद्रभान द्वारा जनपद में लूट/चोरी/नकबजनी की घटनाओं के त्वरित अनावरण एवं  अपराधियों के विरुद्ध कठोरतम कार्यवाही हेतु जनपदीय पुलिस को निर्देशित किया गया है। उक्त निर्देशों के क्रम में दिनांक 27/28.07.22 को अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी डॉ0 राजीव दीक्षित के निकट पर्यवेक्षण व अ0पु0अ0/क्षेत्राधिकारी नगर पीयूष सिंह के नेतृत्व में क्राइम ब्रान्च व थाना कोतवली नगर की संयुक्त पुलिस टीम द्वारा दिनांक 20.07.2022 को कोतवाली नगर क्षेत्रान्तर्गत मंडी गेट के पास हुई घटना का सफल अनावरण करते हुये बाईपास कनवाखेडा मोड़ से पुलिस मुठभेड़ में 05 लुटेरो 1.प्रयांशु उर्फ लालू पुत्र बड़कन्ने लाल राठौर निवासी मो० रामनगर थाना मिश्रित जनपद सीतापुर 2.विशाल उर्फ गोल्डी पुत्र अमर सिंह पाल निवासी ग्राम बाबर अली खेडा थाना सफीपुर जिला उन्नाव 3.मो० फरमान पुत्र मो० फईम निवासी म०न०547/162 जलालपुर फाटक सिम्बर सिंह आटा चक्की के बाद जलालपुर पार्क थाना पारा जनपद लखनऊ 4.अनिल सिंह पुत्र तेजपाल सिंह निवासी ग्राम समशापुर थाना कछौना जनपद हरदोई 5.ऋषि दीक्षित पुत्र बृजेश कुमार दीक्षित निवासी ग्राम लोधौरा थाना मिश्रित जनपद सीतापुर को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है अभियुक्तों से मौके पर जनपद लखनऊ के थाना दुबग्गा क्षेत्र से लूटी गयी मोटरसाइकिल व जनपद सीतापुर की घटना से सम्बन्धित 39,500/- रुपये नगद, 01 अदद काला बैग (पीड़ित/मजरुब से सम्बन्धित कागजात), घटना में प्रयुक्त 05 अदद अवैध तमंचा 10 अदद जिन्दा/खोखा कारतूस 315 बोर बरामद हुये। 

अभियुक्तगण शातिर अंतर्जनपदीय अपराधी है। जिनके विरुद्ध जनपद सीतापुर सहित लखनऊ, उन्नाव में भी लूट/चोरी आदि अपराधों में कई अभियोग पंजीकृत है। और वही दिनांक 28.07.2022 को थाना कोतवाली नगर प्र0नि0 तेजप्रकाश सिंह , उ0नि0 जितेन्द्र बहादुर सिंह , उ0नि0  उग्रसेन सिंह , हे0का0 रवीन्द्र यादव , आरक्षी कृष्णानंद , आरक्षी प्रशांत शेखर , आरक्षी संदीप सिंह आदि पुलिस टीम व क्राइम ब्रांच की संयुक्त पुलिस निरीक्षक सतेंद्र विक्रम सिंह, प्रभारी स्वाट , हे0का0 गुरुपाल सिंह , आरक्षी उमेश , आरक्षी रवि , आरक्षी आनंद , आरक्षी अंकुर , आरक्षी सोहन पाल , आरक्षी अनुराग पाण्डेय , आरक्षी दानवीर चड्ढा , आरक्षी सुमित राघव आदि टीम द्वारा कनवा खेड़ा के पास से जा रहे संदिग्ध व्यक्तियों को रोकने का प्रयास किया गया तो उनके द्वारा पुलिस टीम पर हमला कर दिया गया जिस पर पुलिस टीम द्वारा आत्मरक्षार्थ एवं त्वरित कार्यवाही करते हुए चालक सहित हमला करने वाले व्यक्तियों को पकड़ लिया गया।  

जिसकी पहचान 1. प्रयांशु उर्फ लालू पुत्र बड़कन्ने लाल राठौर निवासी मो० रामनगर थाना मिश्रित जनपद सीतापुर 2.विशाल उर्फ गोल्डी पुत्र अमर सिंह पाल निवासी ग्राम बाबर अली खेडा थाना सफीपुर जिला उन्नाव 3.मो० फरमान पुत्र मो० फईम निवासी म०न०547/162 जलालपुर फाटक सिम्बर सिंह आटा चक्की के बाद जलालपुर पार्क थाना पारा जनपद लखनऊ के रूप में हुई तथा मंडी दुकान के सामने से दो संदिग्ध व्यक्तियों को पूर्व में गिरफ्तार किया गया था, जिनकी पहचान 1.अनिल सिंह पुत्र तेजपाल सिंह निवीस ग्राम समशापुर थाना कछौना जनपद हरदोई 2.ऋषि दीक्षित पुत्र बृजेश कुमार दीक्षित निवासी ग्राम लोधौरा थाना मिश्रित जनपद सीतापुर के रुप में हुयी। जो थाना कोतवाली नगर क्षेत्रांतर्गत गल्ला मंडी के निकट नहर पुलिया के पास हुई घटना के संबंध में थाना कोतवाली नगर पर पंजीकृत मु0अ0सं0 334/22 धारा 392  भादवि में प्रकाश में आये वांछित अभियुक्त हैं। 

अभियुक्त प्रयांश, विशाल व मो0 फरमान उपरोक्त के कब्जे से मौके पर 03 अदद तमंचा 315 बोर, 02 अदद खोखा कारतूस 315 बोर, 06 अदद जिन्दा कारतूस 315 बोर, 01 अदद अपाचे मो0सा0 UP32FE9035, 01 अदद काला बैग कागजात व 31000/- रुपये नगद बरामद हुआ तथा अभियुक्त अनिल सिंह,ऋषि दीक्षित उपरोक्त के कब्जे से मौके पर 02 अदद तमंचा 315 बोर, 02 अदद जिन्दा कारतूस 315 बोर व 8500/- रुपये नगद बरामद हुआ। 

उपरोक्त कार्यवाही व अवैध शस्त्र बरामदगी के संबंध में थाना कोतवाली नगर पर मु0अ0सं0 342/22, 343/22, 344/22, 345/22, 346/22 धारा 25 (1-बी) आर्म्स एक्ट तथा मु0अ0सं0 347/22 धारा 307 भा0द0वि0, मु0अ0सं0 348/22 धारा 419/420/467/468/471 भा0द0वि0 तथा मु0अ0सं0 349/22 धारा 411 भा0द0वि0 व 41द0प्र0सं0 पंजीकृत किये गये हैं। अभियुक्तों के विरुद्ध नियमानुसार निरोधात्मक कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए उनके द्वारा अपराध से अर्जित सम्पत्ति के सम्बन्ध में सूचना/साक्ष्य संकलित कर जब्तीकरण की कार्यवाही शीघ्र ही अमल में लायी जायेगी। जनपद में अपराध एवं अपराधियों  के विरूद्ध निरन्तर कार्यवाही इसी प्रकार प्रचलित रहेगी।