होंडा सिटी और 10 लाख के लिए दिया तीन तलाक

अलीगढ़। होंटा सिटी कार और 10 लाख रुपए के लिए महिला को तीन तलाक देने का मामला सामने आया है। आरोपियों ने महिला से मारपीट की और फिर उसे मायके में छोड़ दिया। जिसके बाद पीड़िता ने सिविल लाइंस थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसके माता पिता ने ससुराल जनों से कई बार बातचीत की, लेकिन आरोपी मानने को तैयार नहीं हो रहे हैं। 

पीड़िता का पति आष्ट्रेलिया में नौकरी करता है और तलाक देने के बाद दुबारा आष्ट्रेलिया चला गया है। इतना ही नहीं दहेज लोभी उन्हें जान से मारने की धमकी भी दे रहे हैं। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। मैरिस रोड निवासी पीड़िता ने बताया कि अप्रैल 2018 में उसका निकाह गुजरात के वडोदरा निवासी शिबली खान के साथ हुआ था। 

निकाह के समय उसके माता पिता ने सोना, नकद और सारा सामान दहेज में दिया था। शिबली आष्ट्रेलिया में नौकरी करता है और निकाह के कुछ दिन बाद ही वह आष्ट्रेलिया चला गया। कुछ दिनों बाद वह एक महीने की छुट्टी पर वापस आया और पीड़िता से कहा कि वह अपने माता पिता से होंडा सिटी कार और 10 लाख रुपए लेकर उसे दे। जब उसने मना किया तो आरोपी उसके साथ मारपीट करने लगा। 

छट्टियां खत्म होने पर आरोपी वापस आष्ट्रेलिया चला गया, जिसके बाद उसके ससुराल वाले उसे मानसिक परेशान करते रहे। उसके सास ससुर ने भी कई बार मारपीट और देवर छेड़छाड़ भी करते थे। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि चार साल तक ऐसे ही चलता रहा और दहेज के लिए उसके साथ मारपीट होती रही। फिर फरवरी में उसका शौहर छुट्घ्टी पर आया तो सभी उसे लेकर अलीगढ़ आए।

5 फरवरी को उसके शौहर और सास ससुर ने पीड़िता को उसके मायके में छोड़ दिया और पति ने तीन तलाक दे दिया। इसके बाद लगातार उसके माता पिता उसके ससुरालियों की मान मनौव्वल करते रहे, लेकिन कई महीने बीतने के बाद भी ससुराल वाले कार और 10 लाख रुपए की मांग पर ही टिके हैं।

 पीड़िता की तहरीर पर सिविल लाइंस पुलिस ने आरोपी पति शिबली खान, ससुर इस्लामुद्दीन, सास शाहनाज बानो, ननद बुशरा खान और देवर अमन खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। सिविल लाइंस थाना प्रभारी प्रवेश कुमार राणा ने बताया कि पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की विवेचना जारी है, जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।