मास्टरमाइंड सहित 10 शातिर अंतर्जनपदीय डकैत/लुटेरे/नकबजन गिरफ्तार, कुल 1,12,000/-नकदी, 1.4 किलो चांदी व 20 ग्राम सोने के जेवरात बरामद

ब्यूरो ,सीतापुर : जनपद सीतापुर में पुलिस अधीक्षक घुले सुशील चंद्रभान द्वारा चोरी/नकबजनी की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए घटना को रोकने व अपराधियों के विरुद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये हैं। उक्त निर्देशों के अनुपालन के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक दक्षिणी नरेंद्र प्रताप सिंह के निकट पर्यवेक्षण में व क्षेत्राधिकारी महोली अमन सिंह के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच प्रभारी उ0नि0 सत्येन्द्र विक्रम सिंह , हे.का. गुरपाल सिंह , का. अनुराग पांडेय , का0 रवि वर्मा , का0 उमेश मिश्रा , का0 आनंद कुमार , का0 सुमित राघव , का0 राहुल कुमार आदि व थाना महोली  की संयुक्त प्रभारी निरीक्षक अनूप कुमार शुक्ला , अपराध निरीक्षक सुरेश कुमार यादव , उ0नि0 राकेश कुमार  सिंह , उ0नि0 शीतला प्रसाद सिंह , उ0नि0 एजाज अहमद आदि पुलिस टीम द्वारा चोरी की घटनाओं का सफल अनावरण करते हुए इन घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह के मास्टरमाइंड सहित कुल 10 शातिर डकैत/लुटेरे/नकबजन को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। 

जिनके कब्जे से एक लाख बारह हजार (1,12,000/-) रुपये नकद, जेवरात 1.4 किलोग्राम चांदी (पायल, बिछिया, अंगूठी, चाबी का गुच्छा, चांदी के सिक्के), जेवरात 20 ग्राम सोना (अंगूठी, नाक की कील, कान की बाली), दो अदद बटुका पीली धातु व घटना कारित करने हेतु प्रयुक्त एक लोहे की सरिया, एक पेचकस, एक प्लास, 02 चार पहिया वाहन (ब्रेजा व इटीयोस), 10 अदद मोबाइल फोन, 02 अदद देशी तमंचा 315 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतुस 315 बोर, 01 अदद देशी तमंचा 12 बोर व 01 अदद जिन्दा कारतुस 12 बोर बरामद हुआ है। अभियुक्तों का एक संगठित गिरोह है, जिसके सदस्य जनपद सीतापुर तथा आस-पास के जनपद लखनऊ, बाराबंकी, फैजाबाद, अमेठी व लखीमपुर खीरी, रायबरेली मे चार पहिया वाहनों से रात्रि मे घूम-घूम कर रेकी कर घरों में चोरी करते है, जिसका सरगना हारुन पुत्र बसीर है। 

हारुन के कहने पर ही गैंग के सदस्य बरामद चार पहिया वाहन ब्रेजा व इटीयोस से अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग टीम बनाकर चोरी करते है । गाड़ी खराब होने का बहाना बनाकर रेकी किये गये गांव के पास वाहन मे ड्राइवर छोड़कर अन्य सभी सदस्य चोरी करके इन्ही गाड़ियों से वापस चले जाते हैं । अभियुक्तों द्वारा पूछताछ में थाना महोली, कमलापुर, लहरपुर, रेउसा आदि क्षेत्रों में विभिन्न स्थानों से चोरी की घटनाओं को अंजाम देना स्वीकार किया गया है। बरामद अवैध शस्त्र के संबंध में मु0अ0सं0 358/22, 359/22, 360/22 धारा 3(1-बी) आर्म्स एक्ट पंजीकृत किया गया है। गिरफ्तार अभियुक्तों का चालान माo न्यायालय किया जा रहा है।