डीएम डॉ. दिनेश चन्द्र की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई जिला शान्ति समिति की बैठक

कानून एवं शान्ति व्यवस्था के लिए जारी दिशा निर्देशों की दी गयी जानकारी

बहराइच । प्रदेश में कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के दृष्टिगत मा. मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी एवं शासन के निर्देशों के क्रम में जनपद में कानून एवं शान्ति व्यवस्था तथा सौहार्दपूर्ण माहौल बनाये रखने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट सभागार में जिला शान्ति समिति की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने बताया कि जनपद में अम्नो-अमान व शान्तिपूर्ण वातारण बनाये रखने के लिए जनपद को सेक्टरों में बॉटकर सेक्टरवार मजिस्ट्रेटों तथा समकक्ष पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गयी है। बैठक के दौरान डीएम व एसएसपी ने विगत शुक्रवार को जुमे की नमाज़ शान्तिपूर्वक माहौल में सम्पन्न होने पर धर्मगुरूओं, गणमान्य व संभ्रान्तजनों, मीडिया, जनप्रतिनिधियों तथा जनपदवासियों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

डीएम व एसएसपी ने सभी एसडीएम व पुलिस क्षेत्राधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी थानों एवं चौकियों व संवेदनशील गॉवों में भी पीस कमेटी की बैठकें आयोजित करें। नगरीय क्षेत्रों में वार्डवार शान्ति समिति का गठन कर उन्हें सक्रिय कर दिया जाय। शान्ति समितियों में क्षेत्रीय गणमान्य व संभ्रान्तजनों, धमगुरूओं, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों, उद्यमियों, व्यापारियों, समाजसेवियों, समाज के जिम्मेदार लोगों, वरिष्ठ नागरिकों तथा प्रबुद्धजनों को सम्मिलित किया जाय। डीएम व एसएसपी ने थानाध्यक्षों को निर्देश दिया कि थानावार अच्छे नागरिकों का विवरण मोबाइल नम्बरों के साथ अपने पास सुरक्षित रखें तथा शान्ति व्यवस्था के निमित्त संवाद भी बनाये रखें। इसके अलावा थानावार असामाजिक एवं खुराफाती लोगों का विवरण भी रखा जाय तथा उन पर सतर्क दृष्टि बनाये रखें और किसी प्रकार की अप्रिय बात संज्ञान में आने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कार्रवाई भी की जाय।

शान्ति समिति की बैठक में डीएम व एसएसपी ने स्पष्ट किया कि जिले के अम्नो-अमान को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से संजीदा है। सौहार्द को बिगाड़ने का मंसूबा रखने वाले सभी शरारती तत्व जिला प्रशासन के रडार पर है। जनपद में सूचना तन्त्र को पूरी तरह से सक्रिय कर दिया गया है। किसी भी व्यक्ति को सौहार्द बिगाड़ने की अनुमति नही होगी। यदि कोई भी व्यक्ति इस प्रकार के कृत में संलिप्त पाया जाता है तो उसके विरूद्ध सुसंगत धाराओं में कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जायेगी। डीएम व एसएसपी ने कहा कि हर हाल में जिले के नागरिकों को गुड पुलिसिंग व्यवस्था उपलब्ध करायी जायेगी। जिले के अच्छे और शान्तिप्रिय लोगों को जिला प्रशासन द्वारा हर संभव सहयोग प्रदान किया जायेगा।

बैठक के दौरान लोगों को अफवाह पर ध्यान न देने की सुझाव देते हुए कहा गया कि सोशल मीडिया की भी सतर्क निगरानी की जा रही है। यदि कोई भी आपत्तिजनक पोस्ट या कमेन्ट प्रशासन के संज्ञान में आता है जिससे जिले के सौहार्द बिगड़ने की संभावना हो तो, ऐसे मामलों में भी नियमानुसार विधिक कार्यवाही की जायेगी। डीएम व एसएसपी ने बताया कि बिना किसी पूर्व अनुमति के किसी प्रकार के धार्मिक जुलूसों के आयोजन की अनुमति नहीं होगी। बैठक के माध्यम से लोगों से अपील की गयी कि अपने वाहनों को सड़कों पर कतई खड़ा न करें बल्कि उन्हें ऐसे स्थानों पर खड़ा किया जाय जिससे आवागमन बाधित न होे।

  डीएम व एसएसपी ने सभी जिम्मेदार अधिकारियों को निर्देश दिया कि धार्मिक स्थलों तथा मदरसों केे जिम्मेदारान से निरन्तर सम्पर्क बनाये रखें। डीएम व एसएसपी ने कहा कि देश, प्रदेश व जनपद के विकास के लिए सौहार्दपूर्ण माहौल अतिआवश्यक है। शान्तिपूर्ण माहौल में ही विकास के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है। इसलिए हम सब की जिम्मेदारी है कि जिले में सौहार्द बनाये रखें और विकास में भागीदार बने। बैठक में मौजूद धर्मगुरूओं, सभ्रान्त व गणमान्यजन से अपेक्षा की गयी कि लोगों को शान्ति एवं विकास के पथ पर अग्रसर रखें क्योंकि समाज को नेतृत्व प्रदान करने की जिम्मेदारी आपके कांधों पर है। इस कार्य के लिए जिला प्रशासन की ओर से भी हर संभव सहयोग प्रदान किया जायेगा।

बैठक के दौरान डॉ. मोहम्मद आलम सरहदी, पूर्व न.पा.परि. अध्यक्ष तेजे खॉ व रेहान खॉ, उद्यमी कुलभूषण अरोड़ा, दीपक सोनी ‘‘दाऊ जी’’, श्रीमती निशा शर्मा, ज़फर उल्लाह खॉ बन्टी, हरिश्चन्द्र गुप्ता, मौलाना मोईनुद्दीन व सिद्दीक हसन, सै. शमशाद अहमद एडवोकेट, रूमी मियॉ, चेयरमैन नानपारा अब्दुल मुहीद, विनय कुमार शर्मा सहित जिले के विभिन्न क्षेत्रों से आये हुए धर्मगुरूओं, संभ्रान्तजन व गणमान्यजनों द्वारा आश्वस्त किया गया कि जनपद की गंगा-जमुनी तहज़ीब को कायम रखने हेतु ज़िला प्रशासन को हर संभव सहयोग प्रदान किया जायेगा।

इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी मनोज, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अशोक कुमार व नगर के कुॅवर ज्ञानंजय सिंह, नगर मजिस्ट्रेट ज्योति राय, उप जिलाधिकारी व पुलिस क्षेत्राधिकारीगण, थानाध्यक्ष सहित जिले के अन्य गणमान्य व संभ्रान्तजन मौजूद रहे। बैठक के अन्त में एडीएम व एएसपी नगर ने धन्यवाद ज्ञापित किया।