पंत के सपोर्ट में उतरे कोच राहुल द्रविड़, बताया टीम का 'अभिन्न अंग'

साउथ अफ्रीका के खिलाफ हाल ही में संपन्न हुई टी20 सीरीज में ऋषभ पंत की कप्तानी के साथ उनकी बल्लेबाजी भी सवालों के घेरे में है। क्रिकेट पंडितों ने तो यह तक कहना शुरू कर दिया है कि अगर पंत ऐसे ही खेलते हैं तो वह ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आगामी टी20 वर्ल्ड कप टीम से बाहर हो सकते हैं। मगर इन सभी के बीच पंत को कोच राहुल द्रविड़ का सपोर्ट मिला है। राहुल द्रविड़ ने बताया है कि खिलाड़ी अपने खेल को अलग स्तर पर ले जाने की कोशिश कर रहे हैं जिस वजह से उनके कुछ मैच खराब जा सकते हैं। साउथ अफ्रीका के खिलाफ चार मैचों में पंत के बल्ले से 105 के स्ट्राइकरेट से मात्र 58 ही रन निकले थे। 

कप्तानी के बोझ ने उनकी बैटिंग परफॉर्मेंस को भी काफी आहत किया। बेंगलुरु टी20 बारिश की भेंट चढ़ने के बाद राहुल द्रविड़ ने कहा "जब आप खिलाड़ियों से बीच के ओवर में अधिक अटैकिंग क्रिकेट खेलने और खेल को अलग स्तर पर ले जाने के लिए को कहते हैं तो कई बार एक दो मैच के आधार पर निर्णय लेना मुश्किल होता है।"

साउथ अफ्रीका सीरीज से पहले आईपीएल में ऋषभ पंत ने 151.78 के स्ट्राइकरेट से 340 रन बनाए थे। पिछले दो सीजन (2020 में 113.95 और 2021 में 128.52) के मुकाबले उनका स्ट्राइकरेट इस साल शानदार रहा था। द्रविड़ का कहना है कि पंत से उन्हें ऐसे ही प्रदर्शन को इंटरनेशनल लेवल पर देखने की उम्मीद है।

उन्होंने आगे कहा "मुझे लगता है कि उनका आईपीएल शानदार गया है, उनका औसत भले ही अच्छा ना हो, मगर उनका स्ट्राइकरेट कमाल का है। वह अपने खेल को ऊपर की ओर ले जाना चाहता है जहां वह तीन साल पहले थे। हम उम्मीद कर रहे हैं कि वह इंटरनेशनल लेवल पर भी वहीं काम करें। इस प्रक्रिया में उनके कुछ मैच खराब जा सकते हैं।" राहुल द्रविड़ ने ऋषभ पंत को टीम का अभिन्न अंग बताते हुए कहा कि बाएं हाथ का यह बल्लेबाज मिडिल ओवर में टीम के लिए एक अमह खिलाड़ी है। पंत आगे आने वाले समय में टीम की योजना का बड़ा हिस्सा हैं।

कोच ने कहा "वह फिर भी बैटिंग लाइन-अप का अभिन्न अंग रहेंगे। हमें पता है उसके पास क्या करने की ताकत है। तथ्य यह है कि वह बाएं हाथ का बल्लेबाज है और बीच के ओवर में वो हमारे लिए काफी अहम है। उसने हमारे लिए कई अच्छी पारियां खेली है, वह खुद भी और बड़ी पारियां खेलना चाहता है। हमारे लिए, वह निश्चित रूप से अगले कुछ महीनों में हमारी योजनाओं का एक बहुत बड़ा हिस्सा है।"