श्रेष्ठ जिला कौशल योजना पुरस्कार से सम्मानित हुआ जनपद बहराइच

बहराइच । कौशल विकास के क्षेत्र में अभिनव प्रयोगों तथा नवाचार के लिए कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जनपद बहराइच को जिला कौशल विकास योजना पुरस्कार 2020-21 के लिए नई दिल्ली स्थित डॉ अम्बेडकर इण्टर नेशनल सेण्टर में आयोजित डीएसडीपी पुरस्कार समारोह में सचिव, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय भारत सरकार श्री राजेश अग्रवाल द्वारा जिलाधिकारी डॉ दिनेश चन्द्र को पुरस्कार प्रदान किया गया। यह पुरस्कार उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले को श्रेष्ठ जिला कौशल योजना 2020-21 रचने के लिए प्रदान किया गया है। 

इसके उपरान्त जिलाधिकारी दिनेश चन्द्र ने मा. केबिनेट मंत्री शिक्षा मंत्रालय, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय भारत सरकार श्री धमेन्द्र प्रधान से शिष्टाचार भेंट कर ‘एक जनपद एक उत्पाद’ के अन्तर्गत गेहूॅ के डंठल से निर्मित श्री गणेश जी की कलाकृति भेंट किया।

उल्लेखनीय है कि जनपद बहराइच में वित्तीय वर्ष 2020-21 में कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा जनपद की स्किल गैप को ध्यान में रखते हुए जिला कौशल विकास योजना (डीएसडीपी) का प्रस्ताव आमंत्रित किया गया था। जिसके क्रम मंे जनपद की स्किल गैप को ध्यान में रखते हुए विभिन्न सरकारी विभागों से समन्वय स्थापित कर प्रगति और प्रशिक्षण हेतु ट्रेडों का चयन करते हुए जिलाधिकारी के माध्यम से प्रस्ताव भारत सरकार को प्रेषित किया गया था। 

डीएम व सीडीओ के दिशा निर्देशन में संकल्प योजना के तहत जनपद द्वारा भेजे गये प्रस्ताव के क्रम में 15 मिनट का एक प्रेजेन्टेशन भारत सरकार द्वारा आमंत्रित किया गया था। भारत सरकार के निर्देशों के क्रम में विगत 04 फरवरी 2022 को डीएम डॉ. दिनेश चन्द्र व मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना द्वारा संयुक्त रूप से स्किल गैप जैसे कृषि, पाराली प्रबन्धन, फूड प्रोसेसिंग जैसे ट्रेडों के बारे में प्रेजेंटेशन प्रस्तुत किया गया था।