ईडी ने बिजनेसमैन अविनाश भोसले को ऑर्थर रोड जेल से लिया हिरासत में

नई दिल्ली : डीएचएफएल-यसबैंक मामले में प्रवर्तन निदेशालय ईडी ने बिजनेसमैन अविनाश भोसले को मुंबई की ऑर्थर रोड जेल से हिरासत में लिया है। खबरों के मुताबिक प्रवर्तन निदेशालय की टीम उन्हें हिरासत में लेकर स्पेशल पीएमएलए कोर्ट में पेश करेगी। 

अविनाश भोसले का नाम दीवान हाऊसिंग फाइनांस लिमिटेड (DHFL) और यस बैंक घोटाले में आया था। अविनाश भोसले पुणे के बड़े कंस्ट्रक्शन व्यापारी हैं। उन्हें पुणे के रिएल स्टेट किंग के तौर पर जाना जाता है। पिछले कुछ समय से अलग-अलग कई मामलों में अविनाश भोसले से पूछताछ चल रही थी। 

डीएचएफएल-यस बैंक मामले में सीबीआई भी छापेमारी कर चुकी है। सीबीआइ्र को आशंका था कि यस बैंक और डीएचएफएल मामले में अवैध फंड को कई रियल एस्टेट कंपनियों के जरिए पास किया गया है। महाराष्ट्र के कई रियल एस्टेट डेवलपर्स की जांच की जांच की जद में आने की अशंका जतायी गई थी। सीबीआई ने बीते 30 अप्रैल को इस मामले में महाराष्ट्र के कई बिल्डरों के ठिकानों पर छापेमारी की थी। उसके बाद सीबीआई ने यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर और डीएचएफएल के कपिल वधावन के करप्शन के मामले में अविनाश भोसले को गिरफ्तार किया था।

सीबीआई ने आरोप लगाये थे कि यस बैंक को डीएचएफएल ने लोन दिया था और उसके बदले कई लाभ पाने की कोशिश की थी। सीबीआई की एक एफआईआर के मुताबिक अप्रैल और जून 2018 के बीच यस बैंक-डीएचएफएल के इस घोटाले ने रूप लेना शुरू किया। समस्याओं से जूझ रही कंपनी डीएचएफएल के 3700 करोड़ के शॉर्ट टर्म डिबेंचर में यस बैंक ने निवेश किया था।