जनपद में आपसी सौहार्द बनाए रखना हम सबकी ज़िम्मेदारी

सहारनपुर। सर्वदलीय संघर्ष समिति ने सहारनपुर में शांति के माहौल में जुमे की नमाज़ होने पर जनपद की जनता को धन्यवाद दिया और कहा कि उम्मीद करते हैं कि आगे भी इसी तरह भाईचारे का माहौल बनाए रखेंगे। समिति ने कहा कि आपसी सौहार्द और अमन का माहौल कायम रखना हम सबकी ज़िम्मेदारी है। समिति की मीटिंग में अध्यक्ष पूर्व विधायक विरेंद्र ठाकुर ने कहा कि कुछ सरफिरे लोगों की अफवाहों पर पूरे समाज को ध्यान देने की आवश्यकता नहीं है। 

कुछ लोग माहौल खराब करना चाहते हैं ऐसे लोगों पर कार्यवाही होनी चाहिए लेकिन ये भी याद रहे की इस कार्यवाही की आड़ में निर्दाेष लोगों का उत्पीड़न न हो। पूर्व विधायक विरेंद्र ठाकुर ने कहा कि पिछले सप्ताह जुमे के दिन हुए प्रदर्शन के बाद पुलिस द्वारा दर्ज किए गए मुकदमे में बहुत सारे बेगुनाह जेल भेज दिए गए। जिन लोगों ने जामा मस्जिद में जुमे की नमाज़ भी नहीं पढ़ी और प्रदर्शन में शामिल नहीं हुए ऐसे बेगुनाहों को भी रास्ते में से पकड़कर जेल भेज दिया गया और एक ही घर के कईं कईं लोगों को जेल भेज दिया गया जबकि वह इस प्रदर्शन में शामिल ही नहीं हुए।

 पूर्व विधायक ठाकुर विरेंद्र सिंह ने कहा कि पुलिस कस्टडी में जिस बेरहमी से लोगों की पिटाई की गई इसकी अनुमति कोई क़ानून नहीं देता है। सर्वदलीय संघर्ष समिति इस कार्यवाही की कड़े शब्दों में निंदा करती है और ये मांग करती है कि जो पुलिस वाले इसमें शामिल हैं इनकी न्यायिक जांच हो और कड़ी सज़ा मिले। उन्होंने कहा कि सर्वदलीय संघर्ष समिति बेगुनाहों को न्याय दिलाने के लिए पहले ही दिन से प्रयासरत है और इस सम्बन्ध में अधिकारियों से लगातार सम्पर्क में है। अगर बेगुनाहों को न्याय नहीं मिलता है और पुलिस प्रशासन सरकार के दबाव में दर्ज मुकदमों में गलत तरीके से लगाई धाराओं पर पूरे मामले की नए सिरे से जांच नहीं करता है तो आगे की रणनीति बनाई जाएगी ताकि बेगुनाह लोगों को न्याय मिल सके।

 विरेंद्र ठाकुर ने कहा कि सर्वदलीय संघर्ष समिति द्वारा किए गए प्रयासों में अधिकारियों के दिए सहयोग का भी स्वागत करते है। इस दौरान मीटिंग में सांसद हाजी फजलुर्रहमान, विधायक उमर अली खान, पूर्व विधायक संजय गर्ग, पूर्व विधायक सुरेंद्र कपिल, पूर्व विधायक मसूद अख्तर, पूर्व मंत्री सरफराज़ खान, पूर्व मंत्री लियाकत अली एडवोकेट, मज़ाहिर राणा, सपा प्रदेश सचिव चौधरी रुद्रसेन, आप नेता योगेश दाहिया, महेंद्र तनेजा, समाजवादी पार्टी ज़िलाध्यक्ष रागिब अंजुम, कांग्रेस ज़िलाध्यक्ष चौधरी मुजफ्फर तोमर, राष्ट्रीय लोकदल के ज़िलाध्यक्ष राव कैसर सलीम, चौधरी नीरपाल, रजनीश चौहान, प्रवक्ता फैसल सलमानी, फरहाद गाड़ा, साहिल खान, चौधरी गफूर, प्रवीण बांदूखेड़ी आदि उपस्थित रहे।