अग्निपथ योजना से युवकों के लिए नये संभावनाओं के खुलेंगे द्वारः जिलाधिकारी

कानपुर देहात : जिलाधिकारी नेहा जैन ने पुलिस अधीक्षक स्वप्रिल ममगाई की उपस्थिति में अग्निपथ योजना के सम्बन्ध में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में एक्स पुलिस मैन, पूर्व सैनिक, सैनिक कल्याण बोर्ड के सदस्यों के साथ बैठक का आयोजन किया। इसमें उन्होंने उन भ्रान्तियों को दूर करने का प्रयास किया ।

जिसके कारण युवा आन्दोलनरत है, जिलाधिकारी ने इस मौके पर बोलते हुए कहा कि इस योजना से युवकों के लिए नये संभावनाओं के द्वार खुलेंगे, साइवर सिक्योरिटी में युवा पारंगत होंगे, अनुशासनवद्ध होंगे, साथ ही यह योजना युवाओं के सामाजिक उत्थान का प्रतीक बनकर उभरेंगी, ऐसी स्थिति में हमें इन युवाओं को समझाना होगा कि वे ऐसा रास्ता न अपनायें जो आराजकता का हो, क्योकि उनकी चाहत ऐसी सेवा में जाने की है ।

जहां देश भक्ति सर्वोपरि है, इस मौके पर बोलते हुए पुलिस अधीक्षक स्वप्रिल ममगाई ने कहा कि युवाओं का विरोध का यह तरीका निन्दनीय है, अमान्य है, आपसी संवाद से समस्याओं का हल निकल सकता है, कोई भी सरकार यह नही चाहती कि उसके युवाओं का अहित हो, इस लिए जरूरी है कि हम इस योजना के पीछे छिपे सकरात्मक पक्षों को युवाओं के सामने ले आये, आज जरूरत है, तकनीकी से युक्त जनरेसन की, सरकार का उद्देश्य यही है कि युवा किसी भी क्षेत्र में जाये तो कौशल युक्त बनकर जाये, वास्तव में इस तरह के आन्दोलनों से असमाजिक तत्वों का जुड़ाव हो जाता है।

 जो निश्चित रूप से समाज व राष्ट्र के लिए हानिकारक है, हमें अपने युवाओं को इन अराजकतत्वों से बचाना होगा, इसके लिए उपस्थित पूर्व सैनिकों से जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने अपील की कि अपने स्तर से वो भी युवाओं के अन्दर जागरूकता लाये, जिससे युवा दिशा भ्रमित न हो, उन्होंने कहा कि किसी भी चीज में कमियां निकालना आसान है, हमें किसी योजना के सकारात्मक चीजों को ग्रहण करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि चुनौतियां हर कहीं है, प्रतिस्पर्द्धा के वातावरण में अपने आप को युवाओं को सिद्ध करना होगा, हिंसा के मार्ग को त्यागना होगा। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन गरिमा सिंह, उप जिलाधिकारी अकबरपुर वागीश कुमार शुक्ला, क्षेत्राधिकारी अकबरपुर आदि अधिकारीगण व पूर्व सैनिक नरेन्द्र सिंह कुशवाहा, राम स्वरूप पाल, कृष्णा बाबू, अशोक कुमार, गंगाराम, वीरेन्द्रर कुमार, बलराम आदि उपस्थित रहे।