विक्रम भट्ट निर्देशित फ़िल्म "जुदा होके भी" का मोशन पोस्टर लॉन्च

-अनिल बेदाग़-

मुंबई : मनोरंजन जगत में इतिहास रचने के लिए तैयार के सेरा सेरा और विक्रम भट्ट का स्टूडियो वर्चुअल वर्ल्ड के सेरा सेरा और विक्रम भट्ट का भारत का पहला और सबसे बड़ा एलईडी वर्चुअल प्रोडक्शन स्टूडियो "स्टूडियो वर्चुअल वर्ल्ड" द्वारा वर्चुअल कंटेंट का प्रोडक्शन जोर शोर से शुरू हो गया है। इस वर्ष यह 5 फिल्मों को रिलीज करेगा। जिसकी शुरुआत विक्रम भट्ट द्वारा निर्देशित अक्षय ओबेरॉय अभिनीत "जुदा होके भी" से होगी, जो 15 जुलाई 2022 को रिलीज होगी, यह भारत की पहली ऐसी फिल्म होगी जिसे पूरी तरह से वर्चुअल प्रोडक्शन स्टूडियो में नई तकनीक की मदद से शूट किया गया है। इसके अलावा 16 सितंबर को "खिलौने", 14 अक्टूबर को "1920 हॉरर ऑफ़ द हार्ट" और दिसंबर तक "हैक्ड" व "इंपॉसिबल" फिल्में भी रिलीज होंगी।

      स्टूडियो वर्चुअल वर्ल्ड्स अगले साल 25 फिल्में रिलीज करने के लिए पूरी तरह तैयार है। के सेरा सेरा ग्रुप के चेयरमैन सतीश पंचरिया ने कहा कि स्टूडियो हिंदी फिल्मों, क्षेत्रीय फिल्मों, ओटीटी प्रोजेक्ट्स, म्युज़िक वीडियो, टेलीविजन और वेब सीरीज के साथ सहयोग करेगा और इसके साथ-साथ फाइनांस भी करेगा।

     वहीं विक्रम भट्ट कहते हैं "वर्चुअल प्रोडक्शन इस क्षेत्र का भविष्य है। यह वह जगह है जहां हमें एक नई वास्तविकता मिलती है। के सेरा सेरा और मैंने, मेरे गुरु महेश भट्ट के साथ, न केवल हमारे लिए बल्कि पूरी इंडस्ट्री को लाभ उठाने के लिए साझेदारी की है। हम फिल्मों को बड़ा, बेहतर और कम खर्चीला बनाने के लिए इंडस्ट्री की सेवा करना चाहते हैं। यह हमारा लक्ष्य है और के सेरा सेरा के सतीश पंचारिया और हम सभी का एक ही सपना है। हम हमेशा के लिए फिल्में बनाने के तरीके को बदलने जा रहे हैं।"

    उधर महान निर्देशक महेश भट्ट कहते हैं, "आप 21वीं सदी के दर्शकों का 20वीं सदी की तकनीक और कहानियों से मनोरंजन नहीं कर सकते। यह एक नई दुनिया और एक नया भारत है। के सेरा सेरा और विक्रम भट्ट ने हाथ मिलाया है। वे लोगों के दिल की धड़कन को जानते हैं और इसे समझने और इस माध्यम से वर्षों जुड़े रहने के बाद, उन्होंने अब इस स्टूडियो को स्थापित किया है जो न केवल हमारे देश में बल्कि दुनिया को चकित कर देगा।"

     यह भारत का पहला और सबसे बड़ा वर्चुअल प्रोडक्शन स्टूडियो है जो मुंबई में स्थित है। वर्चुअल प्रोडक्शन स्टूडियो का इरादा हर संभव और असंभव दुनिया के साथ मीडिया इंडस्ट्री की सेवा करना है। लैंडस्केप, इंटीरियर, विशाल सेट, छोटे सेट, अपार्टमेंट, हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन, अस्पताल, अदालतें, जेल, अंतरिक्ष यान यह सब आपके पास होगा। यह स्टूडियो निर्देशकों को उनकी आवश्यकताओं के अनुसार  फिल्मांकन के नए तरीकों,  नए युग की तकनीकी टीम, विज़ुअलाइज़ेशन, पोस्ट प्रोडक्शन और एडिटिंग की पेशकश करेगा।

    के सेरा सेरा पिछले दो दशकों से फिल्म निर्माण, वितरण, फ़िल्म प्रदर्शन के क्षेत्र में है। कंपनी ने सरकार, सरकार राज, पार्टनर, गोलमाल, अब तक छप्पन जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों का निर्माण किया है और 100 से अधिक ब्लॉकबस्टर फिल्में वितरित की हैं। इसकी तकनीक का उपयोग दुनिया में 1800 से अधिक सिनेमा पार्टनर्स और भारत में 800 से अधिक सिनेमा पार्टनर्स द्वारा किया जाता है। के सेरा सेरा हर साल लगभग 1000 से अधिक क्षेत्रीय और बॉलीवुड कंटेंट को प्रोसेस करता है। के सेरा सेरा भारतीय सिनेमा उद्योग में एचडी तकनीक लाने वाली पहली कंपनी थी। कंपनी का लक्ष्य निकट भविष्य में 9000 सिनेमाघर खोलने का है, जो सिनेमा उद्योग में एक और क्रांति होगी।