आप कार्यकर्ताओ ने किया अग्निवीर योजना के विरोध में प्रदर्शन

सहारनपुर। युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाली केन्द्र सरकार द्वारा संचालित की जा रही अग्निवीर योजना का आज आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध किया और अपनी मांगों का महामहिम राष्ट्रपति को सम्बोधित एक ज्ञापन सिटी मजिस्टेªट विवेक चतुर्वेदी को सौंपा।

प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष योगेश दहिया ने कहा कि अग्निवीर योजना का पूरे देश के युवाओं द्वारा विरोध किया जा रहा है जिसमें कई छात्रों ने आत्महत्या कर तक कर ली है लेकिन सरकार पीछे हटने को तैयार नहीं है और युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड कर रही है।

दहिया ने कहा कि 15 जून से पूरे देश के हर राज्यों में देश का भविष्य सड़को पर लगातार प्रदर्शन, पत्थरबाजी और आगजनी कर रहा है। इससे रेलवे को कई सौ करोड़ का सीधा नुकसान हुआ है और अब जगह-जगह भारत बंद की आवाज भी फैलाई जा रही है। 

उन्होंने कहा कि वैसे तो 2016 से नोटबंदी के बाद ही लोंगों में अविश्वास शुरु हो गया था। किसानों के काले कानूनों को भी एक वर्ष के आन्दोलन ने सरकार को वापस लेने के लिये बाध्य किया। 4 वर्ष की नौकरी यास्तव में सैन्य भर्ती न होकर सिक्योरिटी गार्ड ट्रेनिंग रह जायेगी। सरकार ने यह कदम देश के युवाओं के भविष्यको प्राइवेट कंपनीयों के हाथ में देने के लिए उठाया है। सरकार का यह तर्क कि इस योजना से 5 लाख करोड़ जो सेना पर व्यय होता है, उसमें भारी कटौती होगी, कहीं भी तर्क संगत नहीं है। चूंकि इसके लागू होने से पहले ही इसके प्रतिकूल प्रभाव को पूरा देश सामने रख रहा है।

श्री दहिया ने कहा कि लागू होने के बाद सबसे पहला असर सेना की शक्ति और देश की सुरक्षा पर पड़ेगा। युवाओं का अंधकारमय भविष्य देश में गृह युद्ध को इंगित करता है। जनता का टैक्स सर्वप्रथम देश की सुरक्षा और सेना पर हक रखता है इसमें कोताही नहीं बीती चाहिए। देश में भ्रष्टाचार, मुफ्तखोरी और नेताओं के खर्चों पर लगाम लगाकर भी की जा सकती है।

आम आदमी पार्टी पूरे यूपी में और पूरेर देश में इस कानून का पूरजोर विरोध करती है और सरकार से अनुरोध करती है कि इस अपमानजनक कानून को तुरंत वापस लेकर सेना की पूरानी भर्ती बहाली की जाये। भारत की सेना देश की आन, बान, शान, मान और जान है। सेना के गर्व को खत्म करने का प्रयास न करें।  प्रर्दशन में योगेश दहिया, शहजाद मलिक, वसीम राजा, हरपाल सिंह, भरत राज, संजय बाल्मीकि, मुकेश, आजाद, सुशील टाक, अलीशान, नवाब, योगेश रोड, विनित, मनोज, शभू, शकील आदि मौजूद रहे।