RR vs LSG: संजू की अगुआई में राजस्थान ने लखनऊ के खिलाफ 24 रन से जीत दर्ज की

आईपीएल 2022 के 62वें मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स ने बाजी अपने नाम की। संजू सैमसन की अगुआई में राजस्थान ने लखनऊ सुपर जाएंट्स के खिलाफ 24 रन से जीत दर्ज की। राजस्थान ने 178 के स्कोर का सफलतापूर्वक बचाव किया और लखनऊ की टीम को 154 रन पर ही रोक दिया। राजस्थान की टीम इस जीत के साथ अंक तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंच गई। इसके साथ ही उसकी प्लेऑफ में पहुंचने की दावेदारी और मजबूत हो गई। वहीं लखनऊ की टीम तीसरे स्थान पर पहुंच गई है और उसे प्लेऑफ में पहुचंने के लिए आखिरी मैच में जीत दर्ज करनी होगी।  

राजस्थान के 179 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी लखनऊ सुपर जाएंट्स की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने तीसरे ही ओवर में क्विंटन डिकॉक और आयुष बदोनी के विकेट गंवा दिए। दोनों खिलाड़ियों को ट्रेंट बोल्ट ने लगातार दो गेंदों में आउट किया।

कप्तान केएल राहुल भी इस बार कुछ कमाल नहीं कर पाए और 19 गेंद में 10 रन बनाकर प्रसिद्ध कृष्णा की गेंद पर आउट हुए। लगातार अंतराल पर विकेट गिरने की वजह से लखनऊ का रन रेट भी काफी कमजोर रहा। टीम ने शुरू के छह ओवर यानी पहले पॉवरप्ले में तीन विकेट खोकर सिर्फ 34 रन बनाए।

दीपक हुड्डा ने इसके बाद क्रुणाल पांड्या के साथ मिलकर पारी को संभाला और चौथे विकेट के लिए 65 रन की साझेदारी की। लेकिन अश्विन ने क्रुणाल को 25 के स्कोर पर आउट कर साझेदारी को तोड़ा और राजस्थान की मैच में वापसी कराई। दूसरे छोर पर दीपक हुड्डा ने तेजी से 33 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया। हालांकि वह भी अपनी पारी को ज्यादा आगे नहीं ले जा सके और तेजी से रन बनाने के चक्कर में 16वें ओवर में 59 रन बनाकर युजवेंद्र चहल की गेंद पर स्टंपिंग हो गए।

जेसन होल्डर से टीम को उम्मीदें थीं लेकिन ओबेड मकॉय ने 17वें ओवर में उन्हें और चमीरा को आउट कर लखनऊ को बड़े झटके दिए। मार्कस स्टोइनिस ने आखिरी के ओवरों में कुछ तेज तर्रार शॉट खेले लेकिन रिक्वायर्ड रन रेट अधिक होने की वजह से ज्यादा कुछ नहीं कर पाए और 17 गेंदों में 27 रन बनाकर आउट हुए। 

इससे पहले राजस्थान रॉयल्स ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। हालांकि उसकी शुरुआत अच्छी नहीं रही और जोस बटलर दो रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें तीसरे ओवर में आवेश खान ने बोल्ड किया। 

संजू सैमसन और यशस्वी जायसवाल ने इसके बाद मिलकर दूसरे विकेट के लिए लिए तेजी से 64 रनों की साझेदारी की और टीम के स्कोर को 70 के पार ले गए। सैमसन हालांकि नौवें ओवर में जेसन होल्डर की गेंद पर दीपक हुड्डा को कैच थमाकर पवेलियन चलते बने। उन्होंने 24 गेंदों में 32 रन बनाए। 

यशस्वी ने इसके बाद देवदत्त पडिक्कल के साथ मिलकर तेजी से रन बनाना जारी रखा लेकिन वह भी 29 गेंदों में 41 रन बनाकर आउट हो गए। उन्हें आयुष बदोनी ने अपनी ही गेंदबाजी में कैच किया। राजस्थान की टीम के तीन विकेट गिरने के बावजूद देवदत्त पडिक्कल ने एक छोर पर ताबड़तोड़ बल्लेबाजी जारी रखी और महज 18 गेंदों में 39 रन बनाए। वह 14वें ओवर में रवि बिश्नोई की गेंद पर आउट हुए। इसके बाद रियान पराग, नीशम, अश्विन और आखिरी में ट्रेंट बोल्ट ने छोटी-छोटी मगर तेज पारियां खेली और टीम के स्कोर को 178 तक पहुंचाया।