डिस्काउंट के साथ शेयर बाजार में लिस्ट हुए LIC के शेयर, पहले ही दिन निवेशकों के हाथ आई निराशा

नई दिल्ली : देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी एलआईसी के शेयर मंगलवार को शेयर बाजार में लिस्ट हो गए। जैसा कि अनुमान लगाया जा रहा था, कंपनी के शेयर डिस्काउंट पर लिस्ट हुए और लिस्टिंग के पहले दिन निवेशकों को निराशा हाथ लगी। एलआईसी के शेयर बीएसई पर 81.80 रुपये डिस्काउंट यानी 8.62 फीसदी टूटकर 867.20 रुपये पर लिस्ट हुए हैं। जबकि, एनएसई पर शेयर गिरावट के साथ 872 रुपये पर लिस्ट हुए हैं।

इससे पहले एलआईसी के शेयर प्री मार्केट में 12 फीसदी तक टूट गए थे। बीएसई पर बीमा कंपनी के शेयर 12.54 फीसदी के नुकसान के साथ 830 रुपये पर ट्रेड कर रहे थे। हालांकि, जैसे-जैसे लिस्टिंग का समय नजदीक आता गया इनमें सुधार आता गया। सुबह 9.30 बजे तक शेयर में गिरावट कम होकर 6.69 फीसदी रह गई और इसका भाव 885.55 रुपये पर पहुंच गया था। इस मौके पर निवेश और सार्वजनिक संपत्तिप्रबंधन विभाग के सचिव तुहिन कांत पांडे ने कहा कि एलआईसी आईपीओ की शेयर बाजार में लिस्टिंग एक महत्वपूर्ण क्षण है। एलआईसी का आईपीओ पीएम के विजन के अनुरूप है। उन्होंने कहा कि भारत सबसे महत्वपूर्ण उभरते बाजारों में से एक है और यह इस दशक में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक होगा।

एलआईसी आईपीओ की बिडिंग 4 से 9 मई के बीच हुई थी। इस दौरान एलआईसी आईपीओ को 2.94 गुना सब्सक्राइब किया गया था। बता दें कि सरकार ने अपने पूर्ण स्वामित्व वाली एलआईसी में आईपीओ के माध्यम से 3.5 फीसदी हिस्सेदारी बेची है। विदेशी निवेशकों को छोड़ दें तो इस आईपीओ को सभी निवेशकों का जबरदस्त रिस्पांस मिला। रिपोर्ट के अनुसार, सरकार ने आईपीओ के जरिए करीब 20,500 करोड़ रुपये जुटाए हैं। इसके शेयरों की कीमत 902-949 रुपये प्रति शेयर निर्धारित की गई थी।

एलआईसी की बाजार वैल्यू छह लाख करोड़ रुपये आंकी गई थी, लेकिन शेयरों के गिरावट के कारण फिलहाल इसका बाजार पूंजीकरण 5.6 लाख करोड़ रुपये है। लेकिन मार्केट कैप के हिसाब से एलआईसी भारत की टॉप-5 कंपनियों में शामिल हो चुकी है। यहां बता दें कि इन पांच कंपनियों में एलआईसी के अलावा, मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस), एचडीएफसी बैंक और इंफोसिस है। 

एलआईसी के शेयरों की बाजार में भले ही कमजोर लिस्टिंग हुई हो और इसने निवेशकों को उम्मीदों को तोड़ा हो, लेकिन इसके बावजूद भी बाजार विशेषज्ञ इसे फायदे का सौदा करार दे रहे हैं। शेयर बाजार के मामलों के विशेषज्ञ अनुज गुप्ता की मानें तो निवेशकों को अभी शेयर होल्ड करने चाहिए। इसके अलावा जिनको अलॉटमेंट नहीं हुआ है उनके लिए डिस्काउंट प्राइस पर शेयरों को खरीदना बेहद फायदेमंद हो सकता है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में उम्मीद है कि एलआईसी का शेयर 1200 से 1300 रुपये के स्तर को छू सकता है।