IPL 2022: श्रीलंका के भानुका राजपक्षे ने गोविंदा का गाना गाकर जीता मुश्किल चैलेंज


आईपीएल 2022 में पंजाब किंग्स का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है। पिछले कुछ सीजन की तरह इस बार भी पंजाब की टीम अच्छा प्रदर्शन करने में अब तक नाकाम रही है। हालांकि, टीम प्लेऑफ की रेस से बाहर नहीं हुई है और उसके अभी तीन मैच बचे हैं। इन सभी में जीत हासिल करने पर मयंक अग्रवाल की टीम अंतिम-चार में जगह बना सकती है। टीम मैनेजमेंट भी अपने खिलाड़ियों को पॉजिटिव रखने के लिए तरह-तरह के कदम उठा रहा है। 

ऑफ द फील्ड खिलाड़ियों को तरह-तरह के फन चैलेंज भी दिए जा रहे हैं। इन्हें होस्ट टीम से जुड़ीं शशि कर रही हैं। मंगलवार को भी एक ऐसे ही फन चैलेंज का पंजाब के कुछ खिलाड़ियों ने सामना किया और आश्चर्य की बात यह रही कि इस चैलेंज को श्रीलंका के भानुका राजपक्षे ने जीता। पंजाब किंग्स ने इसका वीडियो भी अपने सोशल मीडिया हैंडल ट्विटर पर शेयर किया है। 

खिलाड़ियों के लिए चैलेंज यह था कि उन्हें गेंद को बल्ले के किनारे से बाउंस कराना था। ऐसा करते हुए उन्हें बॉलीवुड सुपरस्टार गोविंदा की सुपरहिट फिल्म 'कूली नंबर वन' का 'मैं तो रस्ते से जा रहा था' गाना भी गाना था। गाना गाते हुए खिलाड़ियों को बल्ले से गेंद को बाउंस कराना था। इस मुश्किल चैलेंज को करने के लिए सबसे पहले पंजाब के तेज गेंदबाज वैभव अरोड़ा आए। 26 बार के बाद गेंद उनके बल्ले से लगकर नीचे गिर गई।

लेग स्पिनर राहुल चाहर का प्रदर्शन थोड़ा बेहतर रहा और उन्होंने 'मैं तो रस्ते से जा रहा था' गाना गाते हुए 36 बार गेंद को बल्ले से टच कराया। ईशान पोरेल 12 बार में ही फेल हो गए। आखिर में श्रीलंका के स्टार बल्लेबाज भानुका राजपक्षे ने चैलेंज को स्वीकार किया। हिंदी न आने के बावजूद उन्होंने गाने की पहली पंक्ति सीखी और इसे गाते हुए 100 बार यह कारनामा किया। यह देखकर बाकी सभी हैरान रह गए।

बाद में होस्ट शशि ने राजपक्षे से पूछा कि क्या वो गोविंदा को जानते हैं। इस पर राजपक्षे कहते हैं कि हां गोविंदा एक बेहतरीन डांसर हैं। इस पर शशि कहती हैं कि वह उन्हें गोविंदा के गाने सिखाएंगी। इससे पहले भी शशि पंजाब के खिलाड़ियों को कई फन चैलेंज दे चुकी हैं। पंजाब के विस्फोटक बल्लेबाज शाहरुख खान को उन्होंने फिल्म 'मुन्ना भाई एमबीबीएस' के संजय दत्त की तरह चलने का चैलेंज भी दिया था। शाहरुख ने हूबहू संजय की कॉपी की थी।

पंजाब के खिलाड़ियों के प्रदर्शन की बात करें तो इस सीजन शिखर धवन, लियाम लिविंगस्टोन और राजपक्षे को छोड़कर कोई बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर सका है। धवन 11 मैचों में 381 रन, लिविंगस्टोन 11 मैचों में 315 रन और राजपक्षे सात मैचों में 201 रन बना चुके हैं। कप्तान मयंक का फॉर्म टीम के लिए चिंता का विषय है। वह 10 मैचों में 176 रन ही बना सके हैं। गेंदबाजी में कगिसो रबाडा ने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है। उन्होंने 10 मैचों में 18 विकेट झटके हैं।