IPL 2022: इस मामले में धोनी ने राजस्थान के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़-कुंबले का तोड़ा रिकॉर्ड

आईपीएल 2022 के 46वें मुकाबले में मैदान पर उतरते ही महेंद्र सिंह धोनी ने एक खास रिकॉर्ड अपने नाम किया। वह आईपीएल, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय टी-20 को मिलाकर टी-20 क्रिकेट में कप्तानी करने वाली सबसे उम्रदराज भारतीय कप्तान बन गए हैं। धोनी जब हैदराबाद के खिलाफ मैदान पर उतरे तो उनकी उम्र 40 साल और 298 दिन थी। 

इस मामले में धोनी ने राजस्थान रॉयल्स के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का रिकॉर्ड तोड़ा। द्रविड़ ने 2012 से 2013 तक दो साल राजस्थान की कप्तानी की थी। द्रविड़ ने आखिरी मैच बतौर कप्तान 40 साल और 268 दिन की उम्र में खेला था। इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर सुनील जोशी हैं। उन्होंने कर्नाटक टीम की कप्तानी 40 साल और 135 दिन की उम्र में की थी।

चौथ नंबर पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के पूर्व कप्तान अनिल कुंबले (39 साल और 342 दिन) और पांचवें नंबर पर पुणे वॉरियर्स के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (39 साल और 316 दिन) हैं। धोनी ने इन सभी को पीछे छोड़ दिया। जब आईपीएल 2022 की शुरुआत हुई थी, तो धोनी ने कप्तानी छोड़ी दी थी और ऐसा लग रहा था कि वह ये रिकॉर्ड नहीं तोड़ पाएंगे।

हालांकि, आठ मैच बाद रवींद्र जडेजा ने सीएसके की कप्तानी छोड़ी और धोनी को फिर से कप्तान बनाया गया। हैदराबाद के खिलाफ चेन्नई ने 13 रन से जीत हासिल की। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई ने 20 ओवर में दो विकेट पर 202 रन बनाए। ऋतुराज गायकवाड़ और डेवोन कॉन्वे ने पहले विकेट के लिए 182 रन जोड़े और कई रिकॉर्ड अपने नाम किए।

यह चेन्नई की ओर से किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले यह रिकॉर्ड शेन वॉटसन और फाफ डुप्लेसिस के नाम था। वॉटसन और डुप्लेसिस ने भी 2020 में पंजाब के खिलाफ पहले विकेट के लिए 181 नाबाद रन की साझेदारी निभाई थी। तीसरे नंबर पर रॉबिन उथप्पा और शिवम दुबे की साझेदारी है। इन दोनों ने इसी सीजन बैंगलोर के खिलाफ तीसरे विकेट के लिए 165 रन की साझेदारी निभाई थी। 

यह आईपीएल में चौथी सबसे बड़ी ओपनिंग साझेदारी है। पहले नंबर पर जॉनी बेयरस्टो और डेविड वॉर्नर का नाम आता है। इन दोनों ने हैदराबाद से खेलते हुए साल 2019 में बैंगलोर के खिलाफ 185 रन की साझेदारी निभाई थी। दूसरे नंबर पर गौतम गंभीर और क्रिस लिन हैं। इन दोनों ने 2017 में कोलकाता से खेलते हुए गुजरात लायंस के खिलाफ 184 रन की नाबाद साझेदारी निभाई थी।

तीसरे नंबर पर मयंक अग्रवाल और केएल राहुल हैं। इन दोनों ने 2020 में पंजाब से खेलते हुए राजस्थान के खिलाफ 183 रन की साझेदारी निभाई थी। सबसे ज्यादा गेंद खेलने के मामले में भी कॉन्वे और ऋतुराज की जोड़ी सबसे लंबी साझेदारी के मामले में दूसरे नंबर पर हैं। इन दोनों ने 107 गेंदों पर 182 रन की साझेदारी निभाई। गेंद के मामले में सबसे लंबी साझेदारी का रिकॉर्ड मुंबई के पूर्व क्रिकेटर्स सचिन तेंदुलकर और ड्वेन स्मिथ के नाम है।

स्मित और तेंदुलकर ने 2012 में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 108 गेंदों पर 163 रन की नाबाद साझेदारी की थी। तीसरे नंबर पर डुप्लेसिस और वॉटसन की जोड़ी है। इन दोनों ने 2020 में चेन्नई से खेलते हुए पंजाब के खिलाफ 106 गेंदों पर 181 रन की नाबाद साझेदारी की थी।