किसान गोष्ठी का आयोजन

 मनकापुर (गोंडा) । विकास खंड सभागार में आयोजित किसान गोष्ठी का उद्घाटन मुख्य अतिथि जगदेव चौधरी ब्लाक प्रमुख ने किया गया । मुख्य अतिथि ने कृषकों को वैज्ञानिक खेती अपनाने की सलाह दी । इस अवसर पर विष्णु प्रजापति प्रभारी खंड विकास अधिकारी ने कृषकों को उन्नत बीजों के प्रयोग की सलाह दी । डीके सिंह मुख्य क्षेत्रीयअधिकारी इफको ने इफको के उत्पादों नैनो यूरिया, जल विलेय उर्वरकों आदि की जानकारी दी ।

 डॉ. राम लखन सिंह वरिष्ठ शस्य वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केंद्र ने नैनो यूरिया के महत्व एवं प्रयोग की जानकारी दी । उन्होंने फसल अवशेष प्रबंधन, ग्रीष्मकालीन गहरी जुताई और हरी खाद उत्पादन तकनीक की जानकारी दी । उन्होंने बताया ढैंचा बुवाई का उत्तम समय चल रहा है । ढैंचा बीज की 16 किलोग्राम मात्रा प्रति एकड़ की दर से  बुवाई करना चाहिए । बुवाई के 6 सप्ताह बाद  ढैंचा फसल की पलटाई कर  खेत में पानी भर देते हैं । जिससे ढैंचा की फसल सड़कार खाद का काम करती है ।इसे हरी खाद कहते हैं ।

 डॉ. मनोज कुमार सिंह उद्यान वैज्ञानिक ने सब्जियों में नैनो यूरिया के प्रयोग की जानकारी दी । उन्होंने बताया कि नैनो यूरिया की 2 मिलीलीटर मात्रा को प्रति लीटर पानी में घोल बनाकर खड़ी फसल में छिड़काव करें । उन्होंने कार्बनिक खादों के महत्व एवं प्रयोग की जानकारी दी । 

बृजेश कुमार अपर जिला सहकारी अधिकारी,प्रमोद कुमार मिश्रा सहायक विकास अधिकारी सहकारिता, राम सजीवन सहायक विकास अधिकारी छपिया आदि ने प्रतिभाग कर खेती संबंधी जानकारी दी ।  प्रगतिशील कृषकों इंद्रमणि त्रिपाठी, बाबूराम यादव, मेलाराम आदि ने प्रतिभाग कर खेती संबंधी जानकारी प्राप्त की ।