पत्रकार को एसएमएस के द्वारा मिली बम से उड़ाने की धमकी

पीड़ित पत्रकार ने दी नाका पुलिस को तहरीर पुलिस जांच में जुटी

लखनऊ। लखनऊ के एक पत्रकार को मोबाइल पर एसएमएस के द्वारा न सिर्फ गाली गलौज का सामना करना पड़ा बल्कि पत्रकार को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा बम से उड़ाने की धमकी भी दी गई है। समाचार एजेंसी के पत्रकार दुर्विजय गंज नाका के रहने वाले लोधी के मोबाइल फोन पर रविवार की देर रात किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा उन्हें मैसेज कर गंदी गंदी गालियां दी गई और उन्हें बम से उड़ाने की धमकी भी गई है। अपने मोबाइल पर धमकी भरे मैसेज देख कर पत्रकार मोहित लोधी ने इंस्पेक्टर नाका मनोज मिश्रा को सूचना दी है। 

पीड़ित पत्रकार मोहित लोधी ने बताया कि रविवार की रात उनके मोबाइल पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा मैसेज कर उन्हें बद्दी बद्दी गालियां लिखी गई और उन्हें बम से उड़ाने की धमकी भी दी गई है। मोहित लोधी ने बताया कि उन्होंने इंस्पेक्टर नाका को सूचना देते हुए लिखित तहरीर भी दे दिए हैं। पत्रकार मोहित लोधी बताया कि साल 2018 में उनका विवाह हुआ था और उनकी पत्नी के द्वारा उनके खिलाफ दहेज एक्ट का मुकदमा शादी के कुछ माह पूर्व गाजीपुर थाने में दर्ज कराया गया था। 

उन्होंने बताया कि मोबाइल पर गाली गलौज और धमकी के मामले में उन्हें किसी पर शक नहीं है और न ही उनकी पत्नी या उनके ससुराल वालों से कोई खतरा है उन्होंने बताया कि वो समाचार एजेंसी में बतौर संवाददाता नियुक्त हैं और मोबाइल पर एसएमएस करने वाले अज्ञात व्यक्ति के द्वारा उन्हें मैसेज लिख कर जिस तरह से धमकी दी गई है उससे ये प्रतीत होता है कि उन्हें धमकी देने वाला कोई अपराधी प्रवृत्ति का व्यक्ति हो सकता है। 

इस संबंध में इंस्पेक्टर नाका मनोज मिश्रा ने बताया कि मोहित लोधी के द्वारा उन्हें फोन पर जानकारी दी गई थी उनका कहना है कि मोहित लोधी को मोबाइल पर एसएमएस के माध्यम से धमकी देने वाले का पता लगाया जा रहा है। 

पत्रकार मोहित लोधी का कहना है कि उनका किसी से कोई विवाद नहीं है फिर भी न जाने कौन उन्हें इस तरह से धमकी दे रहा है उन्होंने बताया कि उनके माता-पिता का देहांत हो चुका है और उनकी पत्नी अपने मायके में रहती है वी नाका स्थित दुर्विजय गंज में अपने मकान में अपने भाई के साथ रहते हैं। उनसे किसी का कोई भी विवाद फिलहाल नहीं हुआ है पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।