समय से पहले मानसून दे सकता है दस्तक, बारिश से उमस बढ़ी

लखनऊ। चिलचिलाती गर्मी के बीच गुरुवार रात आए आंधी तूफान ने लोगों को गर्मी से राहत दी है। लेकिन शुक्रवार सुबह से ही उमस भरी गर्मी बढ़ गई है। मौसम विभाग का अनुमान है कि प्रचंड गर्मी से कुछ दिनों तक राहत मिलेगी। बीते 24 घंटे में प्रदेश में 5.5 मिमी बारिश हुई। मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि इस बार समय से पहले मानसून दस्तक दे सकता है। इस साल मानसून की बारिश 15 मई को हो सकती है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (प्डक्) ने शुक्रवार को सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, वाराणसी, बलिया, चंदौली और गाजीपुर में गरज-चमक के साथ बारिश होने की संभावना जताई है। साथ ही 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं। दूसरी तरफ मौसम विभाग ने 14 और 15 मई को पश्चिम यूपी में लू चलने का अनुमान लगाया है। मौसम निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि यूपी में तापमान 38 से 40 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है। मई के तीसरे हफ्ते में पारा 44 डिग्री तक पहुंच सकता है। लेकिन अप्रैल जैसी 45 डिग्री वाली गर्मी होने की संभावना बहुत ही कम है। इस साल दक्षिण पश्चिमी मानसून समय से पहले आ सकता है और अंड़मान निकोबार द्वीपसमूह में पहली मौसमी बारिश 15 मई को होने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने एक बयान में बताया, दक्षिण पश्चिम मानसून के 15 मई 2022 के आसपास दक्षिणी अंड़मान सागर और दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़घ्ी में पहुंचने की संभावना है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, विस्तारित पूर्वानुमानों में सतत रूप से समय से पूर्व मानसून आने की अनुकूल परिस्थितियां बनने और इसके केरल के ऊपर और फिर उत्तर दिशा में यानि उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ने के संकेत मिले हैं।