मोदी-योगी युग दलितों के विकास का स्वर्ण काल: डॉ. लालजी प्रसाद

बरेली : उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष, डॉ. लालजी प्रसाद निर्मल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दलितों का सच्चा मित्र बताते हुए शुक्रवार को कहा कि भारत में चल रहा ‘मोदी योगी युग' इतिहास में दलितों उत्थान के स्वर्ण काल के रूप में दर्ज किया जायेगा। 

बरेली के दौरे पर आये डॉ. निर्मल ने कहा कि गरीबों और दलितों को शिक्षा, स्वास्थ्य एवं रोजगार के अवसर मुहैया कराने के साथ आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, उज्ज्वला योजना, आयुष्मान भारत जैसी योजनाओं से इन वर्गों का सशक्तीकरण हो रहा है। 

उन्होंने कहा कि मोदी और योगी की सरकार आजादी के बाद पहली बार दलितों के समग्र विकास का एजेण्डा लाने वाली सरकार है। डॉ. निर्मल ने कहा कि भाजपा सरकार की योजनाओं से दलितों का सामाजिक एवं आर्थिक सशक्तीकरण हुआ है। केंद्र और प्रदेश सरकार की इन योजनाओं के सर्वाधिक लाभार्थी दलित, वंचित और गरीब समाज के लोग हैं। 

आजादी के बाद कोई भी सरकार दलितों के लिए समग्र विकास का एजेण्डा नहीं लायी। यह पहली बार है कि भाजपा की सरकार दलितों के लिए सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक एजेण्डा लेकर आयी है। डॉ. निर्मल ने कहा कि केन्द्र सरकार की स्टैंड-अप इण्डिया योजना के तहत अनुसूचित जाति के उद्यमियों को 10 लाख रुपये से लेकर 01 करोड़ रुपये तक का वित्तपोषण किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि इसके अलावा उत्तर प्रदेश में पं दीनदयाल उपाध्याय स्वरोजगार योजना के तहत 20 हजार रुपये से लेकर 15 लाख रूपये तक का वित्तपोषण, कृषि एवं गैर कृषि क्षेत्र, उद्योग, सेवा, व्यवसाय की परियोजनाएं यथा-पशुपालन, डयेरी उद्योग, खाद एवं बीज की दुकान, मधुमक्खी पालन, टेंट हाऊस, कासमेटिक शाप तथा यातायात की योजनाओं में स्वरोजगार के लिए बैंकों के सहयोग से वित्तीय सहायता दी जा रही है। 

डॉ. निर्मल ने कहा कि राजनैतिक रूप से भी इन वर्गों का आर्थिक सशक्तीकरण हुआ है। भाजपा में संगठन से लेकर विधान परिषद, राज्यसभा और मंत्रिमण्डल में इन वर्गों को समुचित भागीदारी दी जा रही है। इस प्रकार से मोदी-योगी युग इन वर्गों के लिए विकास का स्वर्णिम युग माना जायेगा।