लोक अदालत में 32808 वाद निस्तारित

बांदा। जनपद मुख्यालय, तहसील मुख्यालय में राष्टीय लोक अदालत का आयोजन जनपद न्यायाधीश गजेंद्र कुमार की अध्यक्षता में आयोजित हुई। लोक अदालत में 62462 वाद निस्तारण के लिए नियत किए गए। जिसमें से कुल 32808 वाद सुलह-समझौते द्वारा निस्तारित किए गए। इसमें 2500881 रुपये अर्थदंड के रूप में आरोपित किया गया। मोटर दुर्घटना वादों में मुकदमा 7068000 रुपये आरोपित किए गए।

 कुल 32832 व्यक्ति विभिन्न वर्गों के लाभान्वित हुए। जनपद न्यायाधीश गजेंद्र कुमार द्वारा 11 वाद सुलह-समझौते के माध्यम से रुपये 45सौ अर्थदंड के साथ निस्तारित किए गए। इसी तरह अन्या न्यायाधीशों ने अपने-अपने वादों का निस्तारण किया। 

राजस्व विभाग के सभी न्यायालयों द्वारा कुल 31174 वाद निस्तारित किए गए। बैंक द्वारा कुल 22 वादों का निस्तारण सुलह-समझौते के आधार पर किया गया। जिसमें रुपये 37705000 रुपये पक्षकारों द्वारा वसूल किए गए। साथ ही बीएसएनएल के 25 वाद निस्तारित किए गए। लोक उदघाटन समारोह में कमलेश दुबे अध्यक्ष, स्थायी लोक अदालत बृजमोहन सिंह अध्यक्ष, जिला अधिवक्ता संघ बांदा के राजीव निगम, जिला अग्रणी प्रबंधक बैंक मौजूद रहे।