हर्षोल्लास के साथ 31 हजार 151 स्थानों पर अता होगी ईद की नमाज, योगी ने दिए जरूरी दिशा-निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच पहले से तय 31 हजार 151 स्थानों पर मंगलवार को ईद की नमाज अता की जायेगी। अधिकृत सूत्रों ने सोमवार को बताया कि ईद का त्योहार कल पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया जायेगा। राजधानी लखनऊ समेत राज्य के अन्य जिलों में इस बार तयशुदा स्थानो पर ईद की नमाज अदा की जायेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा कि तीन मई को ईद, परशुराम जयंती और अक्षय तृतीया का पावन पर्व है।

 वर्तमान परिवेश को देखते हुए पुलिस, प्रशासन को अतिरिक्त संवेदनशील रहना होगा। हर एक पर्व शांति और सौहार्द के बीच सम्पन्न हों, इसके लिए स्थानीय जरूरतों के मद्देनजर सभी जरूरी प्रयास किए जाएं। धार्मिक कार्यक्रम, पूजा-पाठ आदि निर्धारित स्थान पर ही हों। धर्मगुरुओं से संवाद बना कर यह सुनिश्चित करें कि सड़क मार्ग, यातायात बाधित कर कोई धार्मिक आयोजन न हो। सूत्रों ने बताया कि प्रदेश में 7436 ईदगाहों और 19949 मस्जिदों समेत 31 हजार 151 स्थानो पर ईद की नमाज अदा की जायेगा। 

इस दौरान अतिसंवेदनशील 2846 नमाज स्थलों पर सुरक्षा के अतिरिक्त इंतजाम किये गये है। ईद को निर्विघ्न संपन्न कराने के लिये 46 कंपनी पीएसी और सात कंपनी सीएपीएफ के अलावा स्थानीय पुलिस के जवान मुस्तैद रहेंगे। उन्होंने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर आज रात से ही ईदगाह और मस्जिदों के बाहर पुलिस के जवान तैनात किये जायेंगे जो शरारती और अवांछनीय तत्वों पर कड़ी नजर रखेंगे। 

इस दौरान अफवाहों पर लगाम के लिये सोशल मीडिया पर कडी नजर रखी जायेगी। सूत्रों ने बताया कि ईद के सिलसिले में अब तक धर्मगुरूओं के साथ 29 हजार 808 बैठकें की जा चुकी हैं और सहमति के आधार पर 60 हजार 150 लाउडस्पीकर उतारे जा चुके हैं जबकि 60 हजार 178 की आवाज कम की गयी है। ईद के मद्देनजर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को बिजली पानी के समुचित प्रबंध किये जाने के निर्देश दिये हैं।