इलाहाबाद हाईकोर्ट में 10 परमानेंट जजों की नियुक्ति का रास्ता साफ

 चीफ जस्टिस एन. वी. रमण की अध्यक्षता वाले सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने इलाहबाद हाईकोर्ट के 10 अतिरिक्त न्यायाधीशों को स्थायी न्यायाधीश नियुक्त करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। कॉलेजियम ने 21 मई को हुई बैठक में यह निर्णय लिया। मंगलवार को शीर्ष अदालत की वेबसाइट पर यह प्रस्ताव अपलोड किया गया।

 कॉलेजियम ने जिन न्यायाधीशों को पदोन्नति देने की अनुशंसा की गई है, उनमें न्यायमूर्ति संजय कुमार पचौरी, न्यायमूर्ति सुभाष चंद्र शर्मा, न्यायमूर्ति सुभाष चंद (वर्तमान में स्थानांतरण पर झारखंड उच्च न्यायालय में कार्यरत), न्यायमूर्ति सरोज यादव, न्यायमूर्ति मो. असलम, न्यायमूर्ति अनिल कुमार ओझा, न्यामूर्ति साधना रानी (ठाकुर), न्यायमूर्ति सैयद आफताब हुसैन रिजवी, न्यायमूर्ति अजय त्यागी, और न्यायमूर्ति अजय कुमार श्रीवास्तव- शामिल हैं।

अदालत को डंपिंग स्टेशन समझ रखा है...जानिए आखिर किस बात पर भड़क गया इलाहाबाद हाई कोर्ट चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया (सीजेआई) रमण. के अलावा, जस्टिस यू. यू. ललित और जस्टिस ए. एम. खानविलकर तीन सदस्यीय कॉलेजियम में शामिल हैं। यह कॉलेजियम हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के संबंध में निर्णय लेता है।