संयुक्त पत्रकार मोर्चा के धरना स्थल जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंचे रामगोविंद चौधरी

बलिया। जनपद के पत्रकारों के आंदोलन को समर्थन देने एवं पत्रकारों की आवाज के साथ अपनी आवाज मिलाने के लिए समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता पूर्व मंत्री रामगोविंद चौधरी आज संयुक्त पत्रकार मोर्चा के धरना स्थल जिलाधिकारी कार्यालय पर पहुंचे जिनके साथ जनपद की पूरी समाजवादी के नेता क्रमिक अनशन अस्थल पर जनपद के पत्रकारों एवं अन्य संगठन के सम्मानित जनों को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री रामगोविंद चौधरी ने कहा कि जनपद के आंदोलनरत पत्रकार बधाई के पात्र हैं इन्होंने बलिया के परंपरा को कायम रखते हुए लोकतंत्र को बचाने एवं अभिव्यक्ति के आजादी को अक्षुण रखने हेतु आगे आकर के तानाशाही सरकार एवं उसके हिटलरी अधिकारियों के खिलाफ आवाज उठाया। क्योंकि देश के आजादी की लड़ाई हो या दूसरी आजादी संपूर्ण क्रांति की लड़ाई हो देश का नेतृत्व बागी बलिया ने हीं किया और पुनः एक बार जब लोकतांत्रिक संस्थाओं का अतिक्रमण किया जा रहा है ।

चौथे स्तंभ की जुबान बंद कराने का प्रयास हो रहा है देश के कानून की व्याख्या सरकार में बैठे लोग अपने हिसाब से कर रहे हैं तब बलिया के पत्रकार साथियों ने साहस और परिपक्वता का परिचय देते हुए इस तानाशाही हुकूमत को बौना करने का काम किया है पूर्व मंत्री ने कहा की हमारे नेता अखिलेश यादव पहले ही जनपद के पत्रकारों के समर्थन में बोल चुके हैं और बलिया जनपद की इस घटना को लेकर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में प्रेस के लोगों के सामने बोलकर इस सरकार के कानों तक भी आप सब की पीड़ा को पहुंचाने का काम किया है और आगे भी समाजवादी पार्टी इस लोकतांत्रिक ढांचे को कायम रखने एवं अभिव्यक्ति की आजादी को अक्षुण रखने के लिए कार्य करती रहेगी।

इस अवसर पर छोटे लोहिया के नाम से प्रसिद्ध स्वर्गीय जनेश्वर मिश्रा की पुत्री एवं उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री श्रीमती मीना तिवारी, पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर विश्राम यादव यशपाल सिंह पार्टी प्रवक्ता सुशील पाण्डेय"कान्हजी"लक्ष्मण गुप्ता राघव सिंह,अकमल नईम खान, राकेश यादव रविन्द्र यादव,शशिकांत चतुर्वेदी निशू श्रीवास्तव,सुभाष यादव रामेश्वर पासवान आदि सपा नेता उपस्थित रहे।