संदिग्ध परिस्थितियों के चलते चाचा ने की अपनी किशोरी भतीजी की कुल्हाड़ी से हत्या

आत्यारे को ग्रामीणों ने पकड़ कर किया पुलिस के हवाले

फतेहपुर/गाजीपुर। थाना क्षेत्र के लमहेटा ग्राम सभा  मजरे जमोहा में गुरुवार की रात किन्ही कारण वश गोपाल सिंह पुत्र स्वर्गीय कुंवर बहादुर सिंह ने अपनी भतीजी काजल सिंह (14) पुत्री स्व0 सूरजभान सिंह निवासी लमेहटा मजरे जमोहा को कुल्हाड़ी से कई वार कर मौत के घाट उतार दिया। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार जब मृतक काजल के माता पिता  कई वर्ष पहले ही गुजर चुके है। मृतक काजल का एक भाई सौरभ उर्फ गोलू सिंह और बहन महिमा सिंह है महिमा और काजल अपने रिश्तेदारों के यहां रह रही थी। 

वहीं अपनी पढ़ाई पूरी कर रही थी। गांव में रह रही दादी की तबीयत खराब होने के चलते कुछ दिन पहले ही गांव आई थी जोकि जमोहा में बने कॉलोनी में अपनी दादी कुंवारा सिंह के साथ रह रही थी। जानकारी के अनुसार आरोपी गोपाल सिंह भी रह रहा था जो कि बीती रात किसी बात में झगड़ा हो गया और वारदात को अंजाम दे दिया। वारदात के बाद ग्रामीणों में तरह-तरह की चर्चा है कि आरोपी ने अपनी भतीजी काजल के साथ गलत व्यवहार करना चाहा और मना करने पर वारदात को अंजाम दे दिया। 

मृतक काजल की दादी ने बताया कि मैंने पेशाब करने के लिए ले जाने को कहा तो लड़के ने ले जाना चाहा और जगह ना होने के चलते खटिया हटाने के चक्कर में काजल और गोपाल सिंह में झगड़ा हो गया जिसके चलते गोपाल ने काजल को कुल्हाड़ी के बेट की तरफ से मरने लगा जिससे काजल चिल्लाते हुए घर के बाहर की ओर भागी और गोपाल सिंह भी पीछे से भागा और सड़क के किनारे कुल्हाड़ी की धार की तरफ से वार कर दिया जिससे मौके पर ही मृत्यु हो गई। 

मृतक का भाई सौरभ ने बताया कि 2 दिन पहले जमीन के बंटवारे को लेकर झगड़ा हुआ था तब मैंने कहा था कि जब मैं आ जाऊंगा तो बटवारा हो जाएगा। लोगों ने बताया कि गोपाल शराबी है और वह अपने हिस्से की जमीन बेच चुका है। लोगों ने बताया कि वारदात के समय भी गोपाल सिंह पिए हुए था और मौके पर घर में शराब की शीशी व नमकीन भी बरामद हुई। मृतिका का भाई सौरभ सिंह दूसरे जनपद में मोटर ड्राइवर है घटना की जानकारी ग्रामीणों ने बताया जानकारी पाते ही सौरभ सिंह वहां से घर के लिए रवाना हो गया।

 घटना की जानकारी ग्रामीणों द्वारा पुलिस को मिली सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वारदात को अंजाम देकर आरोपी भागना चाहा लेकिन ग्रामीणों ने पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। मृतिका का भाई सौरभ ने थाने पहुंचकर लिखित शिकायत की।