हजरतगंज थाने में मारपीट पर एफआईआर की मांग

लखनऊ। अमिताभ ठाकुर ने 27 अगस्त 2021 को उनकी गिरफ्तारी के बाद हजरतगंज थाने में उनके साथ मारपीट तथा गाली-गलौज के संबंध में पुलिस कमिश्नर लखनऊ से एफआईआर की मांग की है। अमिताभ ने कहा है कि उन्हें 27 अगस्त को करीब 02.30 बजे घर से उठा कर करीब 03.15 बजे थाना हजरतगंज लाया गया था, जहाँ उनके साथ मारपीट तथा गाली-गलौज किया गया. उन्होंने कहा कि थाना हजरतगंज की जीडी संख्या 44 में साफ लिखा है कि अमिताभ को कोई जाहिर चोटें नहीं थीं।

 इसके विपरीत शाम 05.30 बजे सिविल अस्पताल में कराये गए मेडिकल में उनके शरीर पर 06 मल्टीप्ल अब्रेजन की चोटें पायी गयीं, जो अगले दिन  28 अगस्त को जेल में हुए मेडिकल में भी पुष्ट हुआ। अमिताभ ने इन चोटों को थाने में हुई मारपीट का नतीजा बताते हुए तत्काल एफआईआर की मांग की है। अमिताभ 07 महीने जेल में रहने के बाद 15 मार्च 2022 को जेल से बाहर आये हैं।