देश की एकता तथा अखण्डता की मजबूती ही विकास का आधार-प्रमोद तिवारी

लालगंज प्रतापगढ़। पौराणिक स्थली बाबा घुइसरनाथ धाम मे सत्ताईसवें राष्ट्रीय एकता महोत्सव की मंगलवार की शाम पूर्व सांसद प्रमोद तिवारी ने परम्परागत दीप प्रज्ज्वलन कर सांस्कृतिक उत्सव का उद्घाटन किया। उदघाटन समारोह को बतौर मुख्यअतिथि संबोधित करते प्रमोद तिवारी ने कहा कि गंगा-जमुनी संस्कृति की मजबूती ही देश के विकास की परिकल्पना है। उन्होनें कहा कि देश की एकता तथा अखण्डता की मजबूती ही विकास का आधार है। प्रमोद तिवारी ने कहा कि दुनिया के राष्ट्रों के बीच भारत की सांस्कृतिक एकता की छवि हमारे महान लोकतंत्र में समानता तथा बन्धुत्व की प्रेरणा की गाथा लिये हुए है। उन्होनें कहा कि एकता महोत्सव सौहार्द के साथ समतापरक पूजा और आराधना की संस्कृति को भी मजबूत बनाये रखने में अपनी सार्थकता रखता है। प्रमोद तिवारी ने बाबा घुइसरनाथ जी से देश को कोरोना मुक्त बनाने के लिए कामना करते हुए कहा कि स्वस्थ भारत अपनी सार्वभौमिक एकता की ताकत से आज के दौर में दुनिया का नेतृत्व करने में समर्थ हुआ है। उदघाटन समारोह का संचालन वरिष्ठ अधिवक्ता ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने किया। अतिथियों का स्वागत ब्लाक प्रमुख अशोक सिंह बब्लू व आभार प्रदर्शन पूर्व प्राचार्य भगवती प्रसाद तिवारी ने किया। संयोजन प्रधानाचार्य सुधाकर पाण्डेय एवं डा. अमिताभ शुक्ल ने किया। इस मौके पर लालगंज प्रमुख अमित सिंह, चेयरपर्सन प्रतिनिधि संतोष द्विवेदी, लल्लन सिंह, अरविंद सिंह, अशोकधर द्विवेदी, विशालमूर्ति मिश्र, रामबोध शुक्ल, अरविंद मिश्र, लाल अभिषेक प्रताप सिंह, अवधेश सिंह, गुडडू सिंह, अरूण पाण्डेय, आशीष उपाध्याय, करूणेश पाण्डेय, दृगपाल यादव, आशुतोष मिश्र, विकास मिश्र, दिनेश मिश्र, छोटेलाल सरोज, त्रिभु तिवारी, डा. शिवमूर्ति शास्त्री, डा. प्रवीन सागर शुक्ल, महेन्द्र सिंह, शैलेन्द्र मिश्र, धर्मेन्द्र शुक्ल, श्रीकृष्ण तिवारी, बृजेश द्विवेदी, सिंटू मिश्र आदि रहे।