अधिवक्ता संघ के चुनाव मे मतदाता सूची मे स्क्रीनिंग शुरू होने से गहमागहमी

लालगंज प्रतापगढ़। संयुक्त अधिवक्ता संघ के आगामी उन्नींस अप्रैल को होने वाले चुनाव के तहत  बुधवार से चुनाव समिति द्वारा मतदाता सूची के सत्यापन की शुरूआत की गयी। समिति द्वारा मौजूदा मतदाता सूची मे से मृतक साथियों के नाम हटाये जाने के साथ सदस्यता के लिए नये आवेदनों पर भी गहन विचारविमर्श किया गया। समिति ने सर्वसम्मत से यह निर्णय लिया कि मतदाता सूची मे उन्हीं नामों को शामिल किया जाएगा जो तहसील एवं दीवानी मे लगातार संघ की गतिविधियों मे अपनी भूमिका दिया करते हैं। 

वहीं अध्यक्ष एवं अन्य पदों के संभावित प्रत्याशियों के द्वारा साथी अधिवक्ताओं से समर्थन के लिए कवायद की तल्लीनता देखी गयी। चुनाव समिति ने 2020 तक के पंजीकृत अधिवक्ताओं को ही मतदाता सूची मे सम्मिलित किये जाने का निर्णय लिया। वहीं चार सौ तिरालिस सदस्यों की वर्तमान मतदाता सूची को भी सार्वजनिक करते हुए दो दिनों के भीतर सदस्यता की वैधता पर आपत्ति भी मांगी गयी है। 

बैठक की अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष रामलगन यादव व संचालन महामंत्री रमेश पाण्डेय ने किया। बैठक मे कमलेश तिवारी, शारदाबक्श सिंह, संजय सिंह, प्रमोद सिंह, बाबूलाल वर्मा, राजेश तिवारी, राजेन्द्र प्रसाद विश्वकर्मा, करूणाशंकर मिश्र, रोशनलाल सरोज, इरफान अली, धीरेन्द्र मिश्र, रामकुमार पाण्डेय आदि रहे। समिति के मीडिया प्रभारी ज्ञानप्रकाश शुक्ल ने बताया कि संघ के चुनाव मे सिर्फ स्थानीय तहसील एवं दीवानी परिसर के ही पंजीकृत अधिवक्ताओं को मतदान के लिए अधिकृत किया जायेगा।