आयुष्मान भारत योजना से आच्छादित करने के लिए जर्नलिस्ट कौंसिल आफ इंडिया ने केन्द्रीय मंत्री को सौंपा ज्ञापन मिला भरोसा

बात पत्रकारों के हित की

जखनियां / गाजीपुर। पत्रकारों को आयुष्मान योजना से जोड़ने के लिए पत्रकारों के संगठन जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शादाब आब्दी ने केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को ज्ञापन दिया।

संगठन के राष्ट्रीय सलाहकार डा.ए.के.राय ने बताया कि ज्ञापन में उन्होने देश के पत्रकारों को आयुष्मान भारत योजना से आच्छादित करने की मांग उठायी। केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने इस पर कार्यवाही का आश्वासन दिया।

इस सम्बन्ध में संगठन के अध्यक्ष अनुराग सक्सेना ने बताया कि इससे पूर्व भी संगठन, पत्रकारों को आयुष्मान योजना से जोड़ने के लिए पूर्व में माननीय प्रधानमंत्री व गृह मंत्री जी को पत्र भेजकर आग्रह कर चुका है। उसी क्रम में पुनः केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी को पत्र सौंपकर पत्रकारों को आयुष्मान योजना से जोड़ने का आग्रह किया गया।   उन्होने कहा कि यदि बडे संस्थानों के पत्रकारों को छोड़ दे तव मध्यम व लघु समाचार पत्रो के पत्रकारों और डिजिटल मीडिया से जुड़े पत्रकारों का वेतन इतना पर्याप्त नहीं है कि वह आसानी से अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें। ऐसे में वह अपना व अपने परिवार का उचित इलाज करा सके यह संभव नहीं है। हालांकि सरकार द्वारा मान्यताप्राप्त पत्रकारों को इलाज की सुविधा मिलती है लेकिन देश के लाखों गैर मान्यता प्राप्त पत्रकार इलाज से वंचित रह जाते हैं।पत्रकार समाज और सरकार के बीच की कड़ी होता है कितना भी कठिन समय हो वह हमेशा अपने कर्तव्यों से पीछे नहीं हटता। कोरोना काल में भी पत्रकारों ने अपने काम को बखूबी अंजाम दिया।

ऐसे मे पत्रकारों को यदि आयुष्मान भारत योजना का लाभ मिलता है तब पत्रकार अपने व अपने परिवार के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित न होंगे और अपने काम को बखूबी अंजाम देते रहेंगे। पत्रकारों की अन्य समस्याओ से भी केन्द्रीय मंत्री को शादाब आब्दी ने अवगत कराया। इस दौरान संगठन के आईटी सेल प्रमुख अम्मार आब्दी भी मौजूद रहे।