शार्ट सर्किट से रिहायशी मकान जला, मवेशी भी झुलसे

बांदा।शॉर्ट सर्किट से आग लगने से मजदूर का रिहायशी मकान जल गया। मवेशी भी जल गए। सुबह 6 बजे अचानक शॉर्ट सर्किट से आग लग जाने से मजदूर का रिहायशी मकान जलने लगा। छप्पर में बंद मवेशी भी बुरी तरह झुलस गए। यह मवेशी मरणासन्न स्थिति में है। पैलानी थाना क्षेत्र के साड़ी गांव में सुबह 6बजे शॉर्ट सर्किट से आग लग जाने से मजदूर अच्छेलाल निषाद के रिहायशी मकान में आग लग जाने से वही छप्पर के पास बंद मवेशी भी झुलस गए। पास खेल रहे बच्चे संध्या 9 वर्ष, पिंकी 16 वर्ष, जानसी7 वर्ष, निधि 5 वर्ष व चांदनी 3 वर्ष व डेढ़ वर्षीय आर्यन ने जैसे ही आग मकान में लगी देखी तो शोर मचाना शुरू कर दिया।

 पड़ोस के बाबूराम, परसू, रमेश ने दौड़कर जल संस्थान की पाइप लाइन से आग बुझाने का कार्य किया।रमेश ने आग में झुलस रहे मवेशी को रस्सी काट कर किनारे खड़ा किया। एक घंटे बाद कड़ी मशक्कत करने के बाद आग पर काबू पाया गया। पीड़िता मुन्नी ने बताया कि 30 हजार रुपये की गृहस्थी का सामान व 50 हजार के मवेशी झुलस गए हैं। पीड़िता का पति अच्छेलाल एक माह पहले सूरत में मेहनत मजदूरी करने चला गया था। घटना के समय परिजन खेत में थे। वहीं परिजनों को पड़ोसियों ने सूचना दी। मौके पर पहुंची मुन्नी ने आग लगे मकान को देखते ही बेहोश होकर गिर पड़ी वहीं बेटियां भी रोने लगी।