पशु चिकित्सालय के डॉक्टर अक्सर रहते हैं नदारद

चित्रकूट : जनपद के मानिकपुर ब्लॉक परिसर के अंदर स्थित पशु चिकित्सालय मे डॉक्टर नदारद रहते हैं दूरदराज से अपने जानवरों का इलाज करवाने के लिए आने वाले ग्रामीणों को अक्सर बन्द हॉस्पिटल का ताला देखकर मायूस लौटना पड़ता है। बता दें की मानिकपुर ब्लॉक में स्थित पशु चिकित्सालय में डॉक्टर अक्सर नदारद रहते है,अधिकतर दूरदराज से पशुपालक पशुओं को लेकर दवा करवाने के लिए हॉस्पिटल आते हैं लेकिन बन्द हॉस्पिटल देखके उन्हें मायूस होकर वापस लौटना पड़ता है डॉक्टर साहब काइंतजार कर रहे रानीपुर के दीपक ने बताया कि मेरी डॉक्टर से फोन में बात होने के बाद मैं अपने कुत्ते को इलाज के लिए चिकित्सालय में लेकर आया हूँ लेकि दो घंटे से इंतजार करने के बावजूद न तो आकर हॉस्पिटल खोल रहे हैं न ही फोन उठा रहे हैं वहीं अपने बकरे का इलाज कराने आयी कस्बे के गांधीनगर मोहल्ले की राधा नाम की महिला का भी येही हाल है सुबह से सब कार्य छोंड कर हॉस्पिटल खुलने का इंतजार कर रही है।