चित्रकूट में मिले लापता गोल्डन बाबा

मंगलवार सुबह 6 बजे बिना बताए घर से चले गए थे

कामदगिरी पहाड़ी की परिक्रमा कर रहे थे

शरीर पर हमेशा 2 किलो से अधिक सोना पहनने वाले मनोज सेंगर उर्फ गोल्डन बाबा चित्रकूट में परिक्रमा करते हुए मिले।

चित्रकूट :शरीर पर हमेशा 2 किलो से अधिक सोना पहनने वाले मनोज सेंगर उर्फ गोल्डन बाबा चित्रकूट में परिक्रमा करते हुए मिले। परिजनों ने ही पुलिस को इसकी जानकारी दी है। गोल्डन बाबा को लेने के लिए परिजन चित्रकूट के लिए रवाना हो गए हैं। बता दें कि मंगलवार सुबह 6 बजे बिना बताए वे घर से निकल गए थे। बेटे की तहरीर पर पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी थी।

परिक्रमा कर रहे थे

बेटे सत्यम सिंह ने बताया कि चित्रकूट में वे कामदगिरी पहाड़ी की परिक्रमा करते हुए मिले हैं। बता दें कि वे अपने शरीर पर 2 किलो से ज्यादा सोना पहनते हैं। घर से निकलते वक्त वे सोना-चांदी और मोबाइल सब कुछ घर पर ही छोड़कर गए थे। हालांकि वे घर छोड़कर क्यों निकले थे, इसका जवाब परिवार वाले भी नहीं दे पा रहे हैं। अब पुलिस को भी गोल्डन बाबा के लौटने का इंतजार है। इसके बाद पुलिस पूछताछ शुरू करेगी।

सोने का बनवाया था मास्क

गोल्डन बाबा सोने का मास्क बनवाकर चर्चाओं में आए थे। इससे पहले वे चांदी के जूते पहनकर भी खूब चर्चाओं में रहे थे। वहीं वे अपने पास एक रिवॉल्वर भी रखते हैं। रिवॉल्वर की बट भी सोने की बनवाई गई थी। वे अपने शरीर पर 2 किलो से ज्यादा सोना और चांदी पहनते हैं। उन्हें गूगल गोल्डन बाबा का खिताब भी दिया गया है।

पुलिस ने शुरू कर दी थी तलाश

कानपुर का बप्पी लहरी भी गोल्डन बाबा को कहा जाता है। वह सोना पहनने के लिए पूरे उत्तर प्रदेश में प्रसिद्ध हैं। उनको शहर में एक अलग पहचान मिली है। मंगलवार सुबह वह अपने काकादेव स्थित घर से मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे। दोपहर तक न लौटने पर परिवार वालों ने उनकी गुमशुदगी काकादेव थाने में दर्ज कराई थी।