जिलाधिकारी की अध्यक्षता में टी० बी० फोरम की बैठक संपन्न

बलरामपुर: जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ० संजीवन लाल ने बताया कि राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के अंतर्गत जनपद में 11 टी०बी० यूनिट संचालित है। क्षय रोग के बीमारी के जांच के लिए सभी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों पर निशुल्क माइक्रोस्कॉपी से बलगम जांच की सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि टीबी के रोगी का उपचार मुख्यतः दो प्रकार का होता है सामान्य क्षय रोग का उपचार 6 माह तक एवं जटिल क्षय  रोग का उपचार 24 माह तक चलता है। क्षय रोग के मरीजों के लिए नि:क्षय पोषण योजना संचालित है इस योजना में सरकारी/प्राइवेट चिकित्सालय में उपचार पर रखे गए मरीजों को उपचार की अवधि में 500 रुपए प्रति माह की दर से सीधे उनके खातों में स्थानांतरित की जाती है। टी॰बी॰  मरीजों की समस्या के समाधान हेतु टोल फ्री नंबर-1800116666 संचालित है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम के तहत  जनपद के 4 लाख 69 हजार जनसंख्या को कवर किया जा रहा है। वर्ष 2021 में कुल 3333 क्षय रोग के मरीज खोजे गए। जोकि कुल लक्ष्य का 74 प्रतिशत रहा। वर्ष 2021 में निक्षय पोषण योजना के तहत डीबीटी के माध्यम से 2841000 रुपए का भुगतान किया गया। चिन्हित मरीजों में 87 प्रतिशत मरीज पूर्णतया स्वस्थ हो गए । जिलाधिकारी द्वारा जिला क्षय रोग अधिकारी को शत प्रतिशत क्षय रोग के मरीजों को चिन्हित किए जाने एवं उनको निक्षय पोषण योजना का लाभ प्रदान की जाने का निर्देश दिया गया। भुगतान समय पर सुनिश्चित किए जाने का निर्देश दिया गया। क्षय रोग के बारे में जागरूकता हेतु ब्लॉक स्तर पर ग्राम प्रधानों की बैठक कराए जाने का निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिया गया। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी रिया केजरीवाल, अपर सीएमओ डॉ एके सिंघल अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।