21 से 27 मार्च तक आयोजित होगा स्वस्थ बालक बालिका स्पर्धा कार्यक्रम

बहराइच । पोषण अभियान के अन्तर्गत पोषण के विषय में जागरूकता एवं जन भागीदारी बढ़ाते हुए बच्चों के पोषण स्तर में सुधार हेतु व्यवहार परिवर्तन करते हुए पोषण अभियान को जन अन्दोलन बनाये जाने की दिशा में प्रत्येक ऑगनबाड़ी केन्द्र, पंचायत, स्कूल, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर विशेष कैम्प का आयोजन करते हुए 21 से 27 मार्च 2022 तक स्वस्थ बालक बालिका स्पर्धा कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक के दौरान जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने सभी स्टेक होल्डर्स को निर्देश दिया कि शासन के निर्देशानुसार अभियान को सफल बनायें।

जिलाधिकारी डॉ. चन्द्र ने बताया कि अभियान का मुख्य उद्देश्य 0 से 06 वर्ष तक के बच्चों के पोषण स्तर में सुधार लाना, समुदाय को बच्चों के स्वास्थ्य एवं पोषण के प्रति भावनात्मक रूप से जोड़ने तथा जागरूक करने, समुदाय में अभिभावकों के मध्य अपने बच्चों को स्वस्थ एवं सुपोषित रखने हेतु प्रतिस्पर्धात्मक माहौल तैयार करना, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग की सेवाओं को प्राप्त करने वाले बच्चों की संख्या में बढ़ोत्तरी करना, बच्चों की वृद्धि एवं विकास की निरन्तर निगरानी करते हुए समय से कुपोषण की पहचान कर कुपोषण को दूर भगाना, बच्चों की लम्बाई एवं उॅचाई की माप लेते हुए उनमें व्याप्त कुपोषण यथा नाटापन, दुबलापन एवं कम वज़न के बच्चों की पहचान करते हुए डेटाबेस तैयार कर समय से उपचार हेतु सम्बन्धित विभागों को संदर्भित करने की कार्यवाही की जायेगी।

बैठक के दौरान डीएम डॉ. चन्द्र ने आईसीडीएस व अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देश दिया कि निर्देश दिया कि पोषण दिवस, वीएचएसएनडी दिवस व वज़न दिवस को मानक के अनुसार संचालित करते हुए लक्षित वर्ग को सभी अनुमन्य सुविधाएं एवं सेवाएं प्रदान की जायें। मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया गया कि होली के पर्व के मद्देनज़र सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर आवश्यकतानुरूप दवाओं की उपलब्धता के साथ एम्बुलेन्स को क्रियाशील रखा जाय। बैठक के अन्त में जिलाधिकारी ने सभी मौजूद लोगों को होली के पर्व की बधाई दी।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एस.के. सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर विनय कुमार द्विवेदी, डीडीओ राजेश कुमार मिश्र, डीपीओ जी.डी. यादव सहित अन्य अधिकारी, आईएमए की प्रतिनिधि डॉ. प्रज्ञा त्रिपाठी सहित अन्य सम्बन्धित लोग मौजूद रहे।