जनपद में 07 मार्च से संचालित होगा सघन मिशन इन्द्रधनुष का चतुर्थ चरण

बहराइच । जनपद में कोविड महामारी के कारण नियमित टीकाकरण से वंचित 0 से 02 वर्ष आयु के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का शत प्रतिशत टीकाकरण किये जाने के उद्देश्य से 07 से 15 मार्च 2022 तक संचालित होने वाले सघन मिशन इन्द्रधनुष अभियान के सफल क्रियान्वयन केे उद्देश्य से जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने कलेक्ट्रेट सभागार में प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि अभियान अन्तर्गत जनपद बहराइच में आशा द्वारा किये गये हेड काउन्ट सर्वे के आधार पर लगभग 38784 बच्चे एवं 9475 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जाना है।

डीएम व एसएसपी ने विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 में प्रदान किये गये रचनात्मक सहयोग के लिए मीडिया प्रतिनिधियों का दिल की गहराईयों से शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि व्यापक प्रचार-प्रसार के कारण की जनपद में 60 प्रतिशत मतदान संभव हो पाया है। डीएम व एसएसपी ने कोविड वैक्सीनेशन कार्य की भांति ही सघन मिशन इन्द्रधनुष तथा आसन्न मतगणना कार्य में भी मीडिया प्रतिनिधियों से सहयोग की अपेक्षा की।

मीडिया प्रतिनिधियों से वार्ता करते हुए डीएम डॉ. चन्द्र ने बताया कि कोविड महामारी के कारण नियमित टीकाकरण से वंचित शून्य से 2 वर्ष के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण हेतु 07 से 15 मार्च 2022 तक सघन मिशन इन्द्रधनुष 4.0 चलाया जाना है। टीकाकरण कार्य हेतु लगभग 600 एएनएम को जिम्मेदारी सौंपी गयी है। अभियान के पर्यवेक्षण हेतु 216 अधिकारी जगाये गये हैं। अभियान के दौरान दूरस्थ/दुर्गम क्षेत्रों, रिक्त उपकेन्द्रों एवं विशेषकर ईंट भट्ठों पर कार्यरत लोगों के बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण पर जोर दिया जाएगा। टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करने हेतु कोविड संक्रमण रोकथाम एवं कोविड टीकाकरण में उल्लेखनीय योगदान देने वाली निगरानी समिति को शासन के निर्देशानुसार टीकाकरण निगरानी समिति का नाम देते हुए अपेक्षित सहयोग करने को कहा गया है।

डीएम डॉ. चन्द्र ने बताया कि आई.सी.डी.एस. विभाग, ग्राम विकास विभाग एवं खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को विशेष सहयोग करने को कहा गया है। जनपद में लगभग 1500 से ऊपर परिवार ऐसे है जो अपने बच्चों एवं गर्भवती माताओं का टीकाकरण कराने से इन्कार करते हैं। इन सभी इन्कार परिवारों को इस अभियान के दौरान प्रेरित कर टीकाकरण कराया जाना है। वर्तमान समय में नियमित टीकाकरण अभियान कार्यक्रम में जानलेवा बीमारियों से बचाव हेतु टीके लगाए जा रहे है। सघन मिशन इन्द्रधनुष अभियान 4.0 के अतिरिक्त माह मार्च में पल्स पोलियो अभियान भी प्रस्तावित है। अभियान के दौरान 0 से 5 वर्ष तक के लगभग आठ लाख बच्चों को पोलियो की दो बूँद पिलाई जाएगी।

डीएम ने बताया कि जिला टास्कफोर्स की बैठक में मिशन की सफलता के लिए अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि धार्मिक स्थलों से भी स्लोगन का प्रचार-प्रसार करायें तथा अपील करायें। समस्त स्टेक होल्डर्स को निर्देशित किया गया है कि बेहतर ताल-मेल और समन्वय के साथ टीम भावना से कार्य करते हुए कोविड टीकाकरण की भांति नियमित टीकाकरण अभियान को भी सफल बनाये। टीकरण के लिए सभी तैयारियां समय से पूर्व कर ली जाय। टीमों के मूवमेन्ट की समीक्षा की जाय। 

लाइन लिस्टेड बच्चों की सूची सभी सम्बन्धित विभागों को उपलब्ध करा दी जाय ताकि वे भी अपने स्तर से अपेक्षित सहयोग दे सकें। ब्लाक स्तरीय टास्कफोर्स की बैठकें अविलम्ब आयोजित कर माइक्रोप्लान का अपडेशन सुनिश्चित कर लिया जाय। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी, एडीएम मनोज, मुख्य राजस्व अधिकारी अवधेश कुमार मिश्र, सीएमओ डॉ. एस.के. सिंह, प्रशिक्षु पीसीएस अमन देओल, एसीएमओ डा. विपिन, डीडीएचआईओ बृजेश सिंह, यूनिसेफ प्रतिनिधि तहरीम सिद्दीकी, मीडिया प्रतिनिधि व अन्य सम्बन्धित लोग मौजूद रहे।