सड़क सुरक्षा

सड़क सुरक्षा, जीवन रक्षा,

ये मंत्र हम अपनाएंगे।

जन जन को जागरूक कर,

लाखों की जान बचाएंगे।।


प्रतिदिन होती ना जाने कितनी,

दुर्घटनाएं सड़कों पर।

मंडराता है खतरा मौत का,

हर पल सिर पर सड़कों पर।।


जान गंवाते ना जाने कितने,

कितने ही अपाहिज होते हैं।

कितने ही ना जाने जग में,

अंग जीवन भर को खोते हैं।।


दाएं - बाएं और आगे पीछे,

देख कर हमको चलना है।

अपने वाहनों की हम सबको,

रफ़्तार भी कम ही रखना है।।


सड़क सुरक्षा नियमों का,

पालन और करना करवाना है।

प्यार, डांट और सख्ती से,

सुरक्षा नियमों को मनवाना है।।


दुर्घटना से देर भली है,

हमें सबको ये समझाना है।

करते हैं प्रेम हम अपनों से,

सुरक्षित घर वापस जाना है।।


आओ लें संकल्प आज हम,

सड़क सुरक्षा नियम अपनाएंगे।

अपने संग औरों का भी,

जीवन खुशहाल बनाएंगे।


स्वरचित

सपना सिंह

जनपद-औरैया

उत्तर प्रदेश