प्रतिदिन कम से कम पांच हजार टीकाकरण किया जाय : जिलाधिकारी

बहराइच । जिलाधिकारी डा. दिनेश चन्द्र बुधवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में सीएचसीवार कोविड -19 टीकाकरण की समीक्षा करते हुए टीकाकरण की धीमी प्रगति पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिया कि व्यापक प्रचार-प्रसार कराते हुए प्रतिदिन कम से कम 5000 लोगों का टीकाकरण किया जाय। जिलाधिकारी ने सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिया कि आवश्यकतानुसार वैक्सीनेशन टीमों में इजाफा किया जाय। राज्य औषत से कम टीकाकरण करने वाले स्वास्थ्य केन्द्रों को चिन्हित कर नियमानुसार कठोर कार्यवाही की जायेगी।

उन्होंने निर्देश दिया कि जिन लोगों ने वैक्सीन का पहला डोज लगवाया है और दूसरे डोज का समय बीत जाने के बाद अभी तक टीकाकरण नहीं कराया है ऐसे ओवर डियूज वालों को चिन्हित कर तत्काल वैक्सीनेशन सुनिश्चित कराया जाय। टीकाकरण की प्रगति किसी भी दशा में राज्य औषत से कम नहीं होना चाहिए। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि उप जिलाधिकारी, सहायक विकास अधिकारी(पंचायत) बाल विकास परियोजना अधिकारी नियमित रूप से कालेजों का निरीक्षण कर टीकाकरण के लिए आने वाले छात्र-छात्राओं का शत प्रतिशत टीकाकरण कराया जाना सुनिश्चित कराये। टीकाकरण में ग्राम प्रधानों, कोटेदार का भी सक्रिय सहयोग लिया जाय। मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिये गये कि टीकाकरण स्थलवार नोडल अधिकारी नामित किया जाय। मुख्य राजस्व अधिकारी को भी निर्देश दिया गया कि टीकाकरण के प्रचार-प्रसार के लिए लेखपालों का भी सहयोग लिया जाय। कोविड टीकाकरण का धार्मिक स्थलों से भी प्रचार-प्रसार कराया जाय। सीएमओ को निर्देश दिया गया कि शिथिल व लापरवाह अधिकारियों, कर्मचारियों को चिन्हित नियमानुसार आवश्यक कार्यवाई भी की जाय।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना, मुख्य राजस्व अधिकारी अवधेश कुमार मिश्रा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एस.के. सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक डा. चन्द्रपाल, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अजय कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी जी.डी. यादव, जिला पंचायत राज अधिकारी उमाकान्त पाण्डेय, जिला पूर्ति अधिकारी अनन्त प्रताप, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. जयन्त कुमार व डा.योगिता जैन, बाल विकास परियोजना अधिकारी, प्रभारी चिकित्साधिकारी व अन्य सम्बन्धित लोग मौजूद रहे।