एनएच में लगा रहा दो घंटे जाम, फंसी रही एंबुलेंस

बांदा/अतर्रानगर में जाम की समस्या लाइलाज बीमारी बन गई है।आयेदिन होने वाली समस्या से घंटो नगरवासियों समेत राहगीरों को जुझना पड़ता है।बुधवार सुबह नेशनल हाइवे में एक किमी लंबा जाम लग गया यह दो घंटे लगा रहा।जिससे बांदा रोड बस स्टैंड से लेकर बदौसा रोड स्थित कोऑपरेटिव तक वाहनों की लंबी कतार लग गई।इस दौरान राहगीरों के साथ एम्बुलेंस भी घंटो फंसी रही। ड्यूटी में तैनात पुकिसकर्मी भी नदारद रहे। दो घंटे बाद पहुंची पुलिस को जाम खुलवाने में ठंडी में भी पसीने छूट गए। जैसे-तैसे बमुश्किल जाम खुल पाया। 

अतिक्रमण हटाने के लिए नगर पालिका व स्थानीय पुलिस व प्रशासन की ओर से समय-समय पर अभियान तो चलाया जाता है, लेकिन यह नाकाफी साबित हो रहा है। कारण, अभियान के दौरान लोग अतिक्रमण कर लगी दुकानें तो हटा लेते हैं, लेकिन कुछ दिन बाद दोबारा वहीं दुकानें खोल लेते हैं। ऐसे में नगर के लिए जाम का झाम लाइलाज बीमारी बन गया है।बुधवार की सुबह से ही अतिक्रमण व आगे निकालने की होड़ में आड़े तिरछे वाहनों के फंसते ही झांसी मिर्जापुर नेशनल हाइवे में जाम लग गया।ड्यूटी में तैनात पुलिसकर्मियों के मौजूद न होने के चलते यह जाम धीरे धीरे बढ़ता गया और एक किमी से भी ज्यादा दूरी तक बढ़ गया।जिसके चलते नरैनी रोड,बदौसा रोड,बांदा रोड, बिसंडा रोड समेत सभी प्रमुख मार्गों में जाम लग गया। दो घण्टे बाद पहुंचे पुलिसकर्मियो ने बड़ी मशक्कत के बाद जाम खुलवाया।इस दौरान दोनों तरफ वाहनों में एंबुलेंस ही नही पैदल चलना भी मुश्किल रहा।