सहारा व पल्स की जालसाली के विरोध में कांग्रेस पार्टी का प्रदर्शन

बांदा। मंगलवार को जिला कांग्रेस कमेटी ने आज कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर सहारा और पल्स कंपनियों में करोड़ों लोगों की जमा पूंजी वापस कराने की मांग की है इस संबंध में महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन भेजा गया है। जिला कांग्रेस कमेटी बाँदा के समर्थन मे इंवेर्सटर कमेटी ने भी ज्ञापन दिया है। ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से भेजा गया ह,ै जिसमें गरीब मजदूर किसान बेरोजगार महिला और बच्चों द्वारा  एफडी आरडी और अन्य योजनाओं में चिट फंड सोसायटी जैसे सहारा व पल्स में जमा किया था।

विगत 5 वर्षों से भुगतान नहीं हुआ। किसी न किसी बहाने से तारीख में बढ़ा दी जाती है । साथ में 12 लाख कर्मचारियों का भुगतान शेष है। जो एक बहुत बड़ा घोटाला है जिससे सभी लोग परेशान भी हैं। सहारा कंपनी ने 2.25 करोड़ निवेशकों का 24 करोड़ धन एकत्र किया और सेबी की जांच से पता चला कि निवेशक और कंपनी अधिकतर फर्जी है। वही यही हाल पल्स में है जिसमें 5.58 निवेशक है और 49 हजार 100 करोड़ रूपया जमा है। इस कंपनी को सेबी ने 22 अगस्त। 2014 को बंद कर दिया था। इस कंपनी का भी कोई पता नहीं है, निवेशक परेशान है। हमारी मांग है कि सहारा व पल्स कंपनियों में निवेश करने वाले प्रदेश के गरीब मध्यमवर्गीय लोगों को सूचीबद्ध कर तत्काल पैसा वापस कराया जाए इसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार को निर्देशित किया जाये।  ज्ञापन  मे प्रद्युम्न कुमार लालू दुबे अध्यक्ष जिला कांग्रेस कमेटी  ,संजय गुप्ता अध्यक्ष शहर कमेटी, ब्लाक अध्यक्ष शिवा कान्त ,दानेन्द्र सिह दानी,गेदां प्रसाद यादव,बदलू राम, ओम प्रकाश सिंह, किशन बाबू गुप्ता, राजेश गुप्त पप्पू  गजेन्द्र सिह पटेल , राम हित निषाद, युवक कांग्रेस अध्यक्ष विनय सिंह सानू केशव पाल, संतोष द्विवेदी,  भईया लाल पटेल, पवन देवी कोरी, महिला अध्यक्ष सीमा खान, अशोक सिह चैहान, शोयब रिजवी, रेखा वर्मा,सीता राम कोटार्य, शैलन्द्र सिह, दिनेश द्विवेदी, सुखदेव गांधी, डा.केपी सेन, रमेश गुप्त, छेदी प्रसाद धुरिया, संदीप जैन, विकास पूर्व प्रधान ओरन आदि प्रमुख कांग्रेस जन उपस्थित रहे है।