शिक्षक भर्ती की मांग कर रहे अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की राजधानी में 97 हजार शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर अभ्यर्थी सोमवार को लखनऊ में बीजेपी कार्यालय पहुंचे, वहां सभी अभ्यर्थी नई शिक्षक भर्ती जारी करने की मांग करते हुए प्रदर्शन करने लगे। 97 हजार शिक्षक भर्ती की मांग को लेकर अभ्यर्थी सोमवार को लखनऊ में बीजेपी कार्यालय पहुंचे। नई शिक्षक भर्ती जारी करने की मांग कर अभ्यर्थी प्रदर्शन करने लगे। भाजपा सरकार के विरोध में नारेबाजी की। पुलिस ने उन्हें भाजपा कार्यालय से ईको गार्डन भेज दिया है। प्रदर्शन के दौरान अभ्यर्थियों ने नारा लगाया- कोर्ट कचहरी नहीं जाना, योगी से है न्याय पाना। प्रदर्शन को खत्म करने के लिए पुलिस ने अभ्यर्थियों पर वाटर कैनेन का इस्तेमाल किया और लाठी चार्ज करना पड़ा। गौरलब है कि पिछले कई महिनों से शिक्षक अभ्यर्थी 97 हजार शिक्षक भर्ती की मांग कर रहें है। इसके लिए राजधानी के अलग- अलग जगहों पर धरना भी देखने को मिला। शिक्षक भर्ती अभियान से जुड़े डीएलएड गुट का नेतृत्व कर रहे भानु प्रताप शुक्ल का कहना है कि प्रदेश सरकार की ओर से कुछ दिन पूर्व 17 हजार पदों पर भर्ती देने का एक आदेश जारी किया गया। प्रशिक्षित इस आदेश से आक्रोशित और निराश है। सरकार ने सुप्रीमकोर्ट में हलफनामा देकर स्वीकार किया कि बेसिक में 51112 पद रिक्त है और 68500 शिक्षक भर्ती में करीब 17000 पद रिक्त पद है,इन सभी पदों को जोड़ लिया जाय तो करीब 90 हजार से 1लाख पद खाली है,बीते 3 साल से शिक्षक भर्ती के लिए प्रशिक्षित दर दर भटक रहे है। प्रशिक्षित युवा ज्ञापन देना,धरना करना, पोस्टर अभियान, ट्विटर अभियान सब कुछ किया गया, मगर सरकार ने ध्यान नहीं दिया। प्रशिक्षतों का कहना है कि सरकार हमारी मांगों को लगातार अनसुना कर रही है, ऐसे ने प्रदेश के समस्त टेट सीटेट पास प्रशिक्षितों ने विधानसभा का घेरने का संकल्प लिया है। प्रशिक्षकों प्रदेश सरकार को चेतवानी दी कि जल्द 97 हजार पदों पर विज्ञापन जारी करें। विधान भवन का घिराव करने पहुंच रहे प्रशिक्षित को पुलिस ने वीआइपी चैराहे से पहले ही रोक लिया। प्रशिक्षित चैराहे पर बैठ गए और प्रदर्शन शुरू कर दिया। दौरान बड़ी संख्या में मौजूद प्रशिक्षित युवाओं ने थाली बजा कर रोष जाहिर किया। करीब 1 घंटे तक चले बवाल के बीच में पुलिस ने अपनी कार्रवाई शुरु कर दी। पुलिस ने प्रशिक्षितों को वाहनों में भर की को गार्डन खेलना शुरु कर दिया। इससे पहले 69 हजार भर्ती मामले से जुड़े अभ्यर्थियों को पुलिस में प्रदर्शन करने पर गिरफ्तार करते इको गार्डन भेजा था। 97 हजार अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के दौरान मुख्य रुप से पंकज अभिषेक, विशु, रजत,आदर्श पटेल, अनंत प्रताप,प्रशांत,अर्पित, रामयागिक, ,अंकित ,मोहम्मद अफसर भानु,सोनी,काजल समेत बड़ी संख्या में प्रशिक्षित मौजूद रहे।