कोहली और गांगुली के बीच कप्तानी विवाद को लेकर चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने विराट पर किया पलटवार

विराट कोहली ने अक्टूबर में घोषणा की थी कि वह टी20 वर्ल्ड कप के बाद इस फॉर्मेट में कप्तानी छोड़ देंगे। लेकिन इसके बाद अगले दो महीने तक कोहली और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के बीच कप्तानी विवाद काफी जारी रहा। इस पूरे विवाद पर अब चीफ सेलेक्टर चेतन शर्मा ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान करते वक्त भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य चयनकर्ता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि बीसीसीआई ने विराट से टी20 टीम की कप्तानी नहीं छोड़ने का अनुरोध किया था। उन्होंने कहा कि बोर्ड ने कोहली से कहा था कि इस पर वर्ल्ड कप के बाद बात कर लेंगे।

चीफ सेलेक्टर ने कहा, 'टी20 वर्ल्ड कप से पहले जब हमारी मीटिंग हुई थी, तो उसमें हम हैरान रह गए थे। विराट ने अचानक से टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया। उस मीटिंग में जितने भी लोग मौजूद थे, उन्होंने कोहली को इस पर पुनर्विचार करने के लिए कहा था। एक बार जब विराट ने कप्तानी छोड़ दी, तो चयनकर्ता चाहते थे कि व्हाइट बॉल के लिए अलग और टेस्ट क्रिकेट के लिए अलग कप्तान हो। विराट को वनडे की कप्तानी से हटाना चयनकर्ताओं का फैसला था और टी20 की कप्तानी छोड़ना विराट का खुद का फैसला था।' 

उन्होंने आगे कहा, 'सेलेक्शन कमेटी ने जब फैसला लिया कि विराट को वनडे की कप्तानी से हटा दिया जाना चाहिए, इसके बाद मैंने तुरंत उन्हें कॉल किया। उन्हें बताया कि व्हाइट बॉल में अलग से कप्तान होगा। हम दोनों के बीच काफी अच्छी बातचीत हुई। वह टीम अहम खिलाड़ी हैं और हमें उनकी जरूरत है। विराट के फैसले के बाद हमें लगा कि इससे विश्व कप अभियान प्रभावित होगा। सबने उनसे कहा था कि कप्तानी जारी रखें। लेकिन उनके फैसले से सब हैरान थे। हम वर्ल्ड कप के बाद उनसे बात करना चाहते थे।'