नशा के खिलाफ अभियान में एसपी संतोष सिंह का बड़ा योगदान -देवेंद्र तिवारी

स्थानांतरण के बाद पूर्व जिपं सदस्य ने किया मुलाकात

कोरिया । पूर्व जिपं सदस्य एवं भाजपा जिला उपाध्यक्ष देवेन्द्र तिवारी ने पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह से उनका स्थानांतरण राजनांदगांव पुलिस अधीक्षक पद पर होने के बाद भाजपा आईटी सेल के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य तीरथ राजवाड़े के साथ उनसे भेंट किया। उन्होंने अल्प समय में निजात अभियान को समाज से जोड़ते हुए सामाजिक बुराई के विरुद्ध क्रांतिकारी बदलाव लाने में अविष्मरणीय भूमिका के लिए पुलिस अधीक्षक श्री सिंह को धन्यवाद दिया। एसपी कोरिया ने निजात अभियान को लेकर जिले के विभिन्न वर्गों के सहयोग एवं नशा के खिलाफ कार्यवाही में सहयोग के लिए सभी का आभार व्यक्त किया।    

           मुलाकात के बाद श्री तिवारी ने बयान जारी कर कहा कि एसपी कोरिया के सराहनीय प्रयास से नशा के खिलाफ एक बड़ी सामाजिक एकजुटता का वातावरण बना था। पुलिस प्रशासन का यह चेहरा हर वर्ग को अपनी ओर खींचने वाला बना और लोग निजात अभियान में दिलचस्पी दिखाते हुए हैं हर तरह के आयोजनों में निजात को एक अनिवार्य हिस्सा मानने लगे। थोड़े ही समय में यह अभियान प्रशासन और समाज को जोड़ने का अभिन्न कड़ी बन गया। शहर एवं गांव में जब युवा वर्ग विभिन्न प्रकार के नशे के गिरफ्त में आते जा रहे थे तब निजात के माध्यम से नशे के दुष्प्रभावों की चर्चा घर घर में होने लगी। महिलाएं इस मुद्दे को लेकर गम्भीर होकर नजर रखना प्रारम्भ कीं।सार्वजनिक स्थानों पर बैनर पोस्टर लोग व्यक्तिगत रूप से लगाने लगे। मीडिया सोशल मीडिया में भी निजात की जमकर चर्चा हुई। इस वातावरण ने नशाकी बुराई को निश्चित ही हतोत्साहित किया। 

         एसपी कोरिया ने एक बड़े लड़ाई की शुरुआत कर इस अभियान को जिले के समाज को सौंप दिया है। यह अभियान स्थायी रूप से सामाजिक अभियान बन जाये। इसके लिए हम सभी को गम्भीर होकर आगे आना पड़ेगा। बुराइयों को खत्म करना हम सभी के लिए चुनौती है लेकिन यदि सही दिशा मिले तो निश्चय ही हम समाज की बेहतरी के लिये अच्छा कर सकते हैं। श्री तिवारी ने पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह का आभार व्यक्त किया और उनके उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं भेंट किया।