43.88 लाख टैक्स नहीं चुकाने पर पीतल कारोबारी की फैक्ट्री सील

मुरादाबाद। विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लगते ही विभागों के तेवर सख्त हो गए हैं। नगर निगम ने बुधवार को टैक्स के बड़े बकाएदारों पर डंडा चलाना शुरू किया। 43.88 लाख से अधिक के बकाए में धीमरी स्थित पीतल कारोबारी की फैक्ट्री को निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों की टीम ने सील किया। अन्य बड़े बकाएदारों को चेताया कि वह अपना टैक्स जमा करें, नहीं तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

बुधवार को अपर नगर आयुक्त अनिल कुमार सिंह, मुख्य कर निर्धारण अधिकारी राकेश कुमार सोनकर के नेतृत्व में नगर निगम की टीम धीमरी में पीतल कारोबारी अहमद, लतीफ, मो. फतेह, इकराम, पुत्र इकराम उल हक की फैक्ट्री पर ताला जड़कर सील करना शुरू किया। टीम को देखकर आसपास की फैक्ट्रियों में भी अफरातफरा मच गई। कुछ ने विरोध करने की कोशिश भी की, लेकिन दलबल को देखकर सभी पीछे हट गये।

 इसके बाद नगर निगम की टीम ने फैक्ट्री को सील कर दिया। इस औद्योगिक आस्थान पर 31 मार्च तक का 43, 88, 728 रुपये टैक्स बकाया था। टीम में मो. सुबहान, सतीश कुमार, उपेंद्र वर्मा, मोहित चौहान, अब्दुल अजीम, मयंक चौधरी, आसिफ शादाब राजस्व निरीक्षक आदि शामिल रहे। मुख्य कर निर्धारण अधिकारी राकेश कुमार सोनकर ने कहा कि नगर निगम क्षेत्र में राजस्व के बड़े बकाएदारों, जिसमें औद्योगिक इकाइयां, बड़े व्यवसायिक प्रतिष्ठान आदि शामिल हैं को नोटिस जारी किया गया है। सभी अपने बकाया जमा करें, अन्यथा उनकी संपत्तियों को सील कर कुर्की की जाएगी।