महामारी का प्रकोप झेल रहा मलेशियाई पर्यटन उद्योग, डूब रहा है मंदी में

कोविड-19 की महामारी से पहले मलेशिया को पर्यटकों का पसंदीदा स्थान माना जाता था. इसकी राजधानी कुआलालम्पुर कई द्वीपों और समुद्र तटों का घर है. यह क्षेत्र अब महामारी का प्रकोप झेल रहा है.कीरा (बदला हुआ नाम) राजधानी कुआलालम्पुर में छुट्टियों के लिए घर पर्यटकों को किराये पर देती थीं. कोविड-19 के पहले तक यह फलता-फूलता व्यापार था. लेकिन एक साल पहले वह अपने माता-पिता के पास चली गईं.

मलेशियाई पर्यटन, कला और संस्कृति मंत्रालय का कहना है कि 2020 में अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन के अनुसार महामारी के दौरान पर्यटन उद्योग में पुरुषों की तुलना में अधिक महिलाओं की छंटनी की गई थी. मलेशिया में 2020 में पर्यटन उद्योग की स्थिति से प्रभावित महिलाओं की संख्या 48.3 प्रतिशत थी, जो 2019 में 2 प्रतिशत से कम थी. पर्यटन, कला और संस्कृति मंत्री नैंसी शकुरी ने कहा कि 2020 से 2030 तक की दस साल की अवधि में मलेशिया के पर्यटन उद्योग को तीन स्तंभों पर बनाने की योजना है. ये तीन स्तंभ प्रतिस्पर्धा, समावेश और स्थिरता हैं. उनके मुताबिक सरकार महिलाओं के समान लाभ के लिए काम कर रही है.

पर्यटन क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के लिए मलेशियाई सरकार ने लॉन्गकावी के लोकप्रिय पर्यटन द्वीप को पूर्ण टीकाकरण वाले पर्यटकों के लिए खोल दिया है. लॉन्गकावी पहुंचने पर उन्हें क्वारंटीन की भी आवश्यकता नहीं होती है. इस मौके पर घरेलू एयरलाइन को भी पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अलग-अलग शहरों से उड़ानें बढ़ाने को कहा गया है. मलेशियाई एयरलाइंस की अंतरराष्ट्रीय उड़ानें मार्च 2022 तक बढ़ने की उम्मीद है. लॉन्गकावी में पर्यटक गतिविधि तेज नहीं हुई है, लेकिन स्थानीय लोगों की आमद धीरे-धीरे बढ़ रही है. अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों का उत्साह अभी तक सामने नहीं आया है, भले ही सरकार ने स्पष्ट उपाय किए हैं.

एक स्थानीय कारोबारी शवाउन (बदला हुआ नाम) के मुताबिक इस महामारी ने कई छोटे कारोबारियों की जान ले ली है. वे कहते हैं, "अब केवल वही व्यवसायी बचे हैं जो थोड़े अमीर हैं" दक्षिण पूर्व एशियाई राष्ट्र ने 1 जनवरी से अपनी सीमाएं विदेशियों के लिए खोलने का फैसला किया है, लेकिन कोरोना का नया संस्करण उद्योग के लिए खतरा है. इसीलिए कुआलालम्पुर सरकार ने सीमाओं को बंद रखा है. देश की नेशनल रिकवरी काउंसिल के अध्यक्ष मोहिउद्दीन यासीन ने कहा कि अगले साल उद्योग में क्रमिक गतिविधि की प्रबल संभावना है, लेकिन उस कठिन समय को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. मलेशिया में 94 प्रतिशत से अधिक वयस्कों को दोनों खुराकों के साथ टीका लगाया गया है.